• Hindi News
  • Haryana News
  • Ratia
  • और इधर... बसों में होती है छात्राओं से छेड़छाड़, पीएम को लिख चुकी हैं 145 पत्र
--Advertisement--

और इधर... बसों में होती है छात्राओं से छेड़छाड़, पीएम को लिख चुकी हैं 145 पत्र

गांव अजीतनगर निवासी नौवीं की छात्रा ने गांव स्कूल को अपग्रेड करने व मिलने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 145...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:45 AM IST
गांव अजीतनगर निवासी नौवीं की छात्रा ने गांव स्कूल को अपग्रेड करने व मिलने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 145 बार पत्र भेजे हैं, लेकिन कार्यालय की ओर से छात्रा को कोई जवाब नहीं दिया गया है। छात्रा का कहना है कि जब तक समस्या का समाधान नहीं होता, तब तक वह प्रधानमंत्री कार्यालय में पत्र लिखती रहेगी। छात्रा ने कहा कि बस में जब दूसरे गांव में पढ़ने जाती है तो उनसे छेड़छाड़ होती है। आप 10 मिनट का समय दो पूरी समस्या बताना चाहती हूं।

पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र भेजने वाली छात्रा सुखो रानी का कहना है कि उनके गांव के राजकीय मिडल स्कूल को अपग्रेड करने के लिए कई बार अधिकारियों को पत्र भेजे जा चुके हैं, लेकिन स्कूल को अपग्रेड नहीं किया जा रहा। स्कूल अपग्रेड न होने के कारण छात्राएं बाहर पढ़ने के लिए नहीं जा पाती। कई छात्राओं को बीच में ही पढ़ाई छोड़नी पड़ती है। उनके गांव में ज्यादा तर निर्धन परिवार है काफी लोग बेटियों को दूर पढऩे नही भेज पाते। उन्हें भी पढऩे के लिए गांव से दूर दूसरे गांव में पढ़ने के लिए बस में जाना पढ़ता है।

इसी गांव की छात्रा के पत्र पर बदला गया था गांव का नाम

दो साल पहले इसी गांव की छात्रा हरप्रीत कौर के एक पत्र पर प्रधानमंत्री ने संज्ञान लिया था। छात्रा ने अपने गांव के गंदा का नाम बदलने की मांग की थी। प्रधानमंत्री कार्यालय ने प्रदेश सरकार को आदेश दिए। इसके बाद गांव का नाम गंदा से बदलकर अजीत नगर कर दिया गया। गांव का नाम बदलने के पीछे इसी छात्रा का प्रयास बताया जा रहा है।

पंचायत ने भी कर रखी है डिमांड

सरपंच लखविंदर राम का कहना है कि गांव के मिडल स्कूल को अपग्रेड कर राजकीय उच्च विद्यालय बनाने की मांग पंचायत ने भी कर रखी है। आठवीं के बाद बच्चों को आसपास के गांवों में जाना पड़ता है।

स्कूल को अपग्रेड व पीएम से मिलने के लिए लगा रही है गुहार

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..