• Hindi News
  • Haryana News
  • Rewari
  • डेढ़ साल बाद भी कार्रवाई नहीं अब एसआईटी करेगी जांच
--Advertisement--

डेढ़ साल बाद भी कार्रवाई नहीं अब एसआईटी करेगी जांच

करीब डेढ़ साल पहले हरिनगर के सरपंच को गोली मारने के मामले में नामजद शिकायत होने के बावजूद पुलिस आज तक कोई गिरफ्तारी...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:15 PM IST
करीब डेढ़ साल पहले हरिनगर के सरपंच को गोली मारने के मामले में नामजद शिकायत होने के बावजूद पुलिस आज तक कोई गिरफ्तारी नहीं कर सकी। वहीं पुलिस द्वारा की अब की गई जांच पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। दूसरी ओर, सरपंच के शरीर से अभी तक गोली भी नहीं निकाली गई है। डॉक्टरों का कहना है कि शरीर को लकवा होने के खतरे के चलते गोली नहीं निकाली गई है। सरपंच के अनुसार आईजी डॉ. सीएस राव के निर्देश पर अब इस मामले की जांच एसआईटी करेगी। इधर, एसआईटी इंचार्ज राजेंद्र सिंह ने बताया कि मामले की जांच करने वाले आईआे को भी पूरी डिटेल के साथ बुलाया है। इस मामले को लेकर एसपी से मुलाकात कर आगे निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

लकवा होने के खतरे के चलते निकाली नहीं जा सकी है गाेली

हरिनगर सरपंच को गोली मारने का मामला

स्कूटी पर जाते समय की थी फायरिंग

गांव हरीनगर के सरपंच आनंद यादव 30 मई 2016 को सुबह स्कूटी पर सवार होकर जिमखाना क्लब जा रहा था। घर से कुछ दूर चलने पर ही दो लोगों ने सरपंच को गोली मार दी थी। गोली सरपंच के बायें कंधे पर लगी थी। रेवाड़ी से उसे उपचार के लिए रोहतक पीजीआई रैफर कर दिया था। रोहतक में लकवा होने के खतरे को देखते हुए चिकित्सकों ने गोली नहीं निकाली। आनंद ने कहा कि पुलिस ने मामले में संजय मेहंदीरत्ता व दीपक सोनी के खिलाफ केस दर्ज किया था। लेकिन इसके बाद निष्पक्ष जांच कार्रवाई नहीं की गई। आरोप है कि मामले में डीएसपी स्तर के पुलिस अधिकारियों तक ने जांच की, मगर तफ्तीश को सही दिशा में नहीं ले जाया गया। अगस्त 2017 में वारदात में प्रयोग की गई बाइक भी बरामद हो गई थी, लेकिन आगे कार्रवाई नहीं की गई।

जांचकर्ता आईआे को भी पूरी डिटेल के साथ बुलाया है

X

Recommended

Click to listen..