--Advertisement--

लाइसेंस गड़बड़ी मामले में 3 पर केस दर्ज दूसरे पक्ष ने पुलिस कार्रवाई को बताया गलत

रेवाड़ी | चालक लाइसेंस जारी करने की तिथि में तब्दीली करने के मामले में मॉडल टाउन थाना पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 03:40 AM IST
Rewari - case filed on 3 in case of license disturbances the other party told police action wrong
रेवाड़ी | चालक लाइसेंस जारी करने की तिथि में तब्दीली करने के मामले में मॉडल टाउन थाना पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। इसमें आरटीए कार्यालय में कार्यरत रही एक पूर्व महिला कर्मचारी का नाम भी शामिल है। हालांकि दूसरे पक्ष ने इस कार्रवाई को एक गलत और साजिश बताया है। 6 जुलाई को खंडोडा निवासी राकेश कुमार का चालक लाइसेंस कार्यालय द्वारा जारी किया गया था।

आरोप है कि एक जूनियर प्रोग्रामर के निर्देश पर यह लाइसेंस ऑपरेटर द्वारा बनाया गया। इसमें 8 दिसंबर 2015 के स्थान पर तिथि को बदलकर 8 दिसंबर 2012 कर दिया गया। मामले में एडीसी ने जांच की थी। जांच के अनुसार लाइसेंस बनाने में राकेश ने प्रदीप व जूनियर प्रोग्रामर की सहायता ली थी। इसमें मॉडल टाउन थाने में एफआईआर दर्ज की गई है।

दूसरा पक्ष - कार्रवाई में कई तरह की गड़बड़ी : दूसरे पक्ष से प्रदीप ने अपनी बात रखते हुए कहा कि मामले में की गई कार्रवाई को देखें तो समझ सकते हैं कि पूरी तरह एकतरफा और जानबूझकर दुर्भावना से की गई है। जिस दिन जूनियर प्रोग्रामर का तबादला आरटीए से एनआईसी सरल केंद्र में होता है, उसी दिन ही डेढ़ माह पुराने गलत लाइसेंस से उसका नाम जोड़ नौकरी से हटाने की कार्रवाई शुरू हुई। जबकि लाइसेंस प्रक्रिया में उनकी भूमिका नहीं। ऑपरेटर ने लिखित बयान में बताया कि जब उसने यह लाइसेंस बनाया तो अगले दिन ही डिलिंग हैंड को बता दिया था यह गलत लाइसेंस बन गया। यानि मौके पर चोरी पकड़ ली जाती है तो उसी समय कार्रवाई क्यों नहीं की गईं। उन्होंने कहा कि आरटीए का भ्रष्टाचार उजागर करने के चलते साजिश के तहत ये कार्रवाई की गई है। जांच में सब स्पष्ट हो जाएगा।

X
Rewari - case filed on 3 in case of license disturbances the other party told police action wrong
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..