जल शक्ति अभियान की समीक्षा के लिए पहुंची केंद्रीय टीम, 3 दिन करेगी निरीक्षण

Rewari News - केंद्र सरकार द्वारा नए अभियान जल शक्ति के तहत जिला में शुरू किए गए कार्यों की प्रगति को जांचने केंद्रीय टीम के...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:30 AM IST
Rewari News - haryana news central team reaching for review of hydroelectricity campaign will conduct 3 days inspection
केंद्र सरकार द्वारा नए अभियान जल शक्ति के तहत जिला में शुरू किए गए कार्यों की प्रगति को जांचने केंद्रीय टीम के सदस्य शनिवार को रेवाड़ी पहुंचे। टीम ने अधिकारियों के साथ बैठक कर अभियान की समीक्षा की।

केंद्र सरकार द्वारा नियुक्त एमएचआरडी के संयुक्त सचिव मधु रंजन कुमार व नीति आयोग के उप-सचिव डी. बंधोपाध्याय की अध्यक्षता में लोक निर्माण विश्राम गृह में आयोजित बैठक के दौरान जल संरक्षण, जल संचयन व जल संवर्धन आदि विषयों पर चर्चा की गई। संयुक्त सचिव मधु रंजन ने कहा कि तीन महीने के मुहिम के तहत सामूहिक जल संबंधी समस्याओं के निवारण का अभियान है। विभिन्न क्षेत्रों में लक्ष्य निर्धारित करके कार्य किए जाएंगे, ताकि ताकि जल संसाधनों की कोई कमी न हो। उन्होंने कहा कि इसके लिए डाटा कलैक्शन एकत्रित किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि जिन तालाबों की जीओ टैग हो चुकी है, उन तालाबों का डाटाबेस तैयार करें। टीम ने जिले के बोरवेल के बारे में भी समीक्षा की। केंद्रीय टीम द्वारा जिला स्तर पर जल शक्ति अभियान के तहत करवाए जा रहे कार्यों का आगामी 3 दिन तक निरीक्षण किया जाएगा। केन्द्रीय टीम ने वन विभाग के हरबल पार्क का अवलोकन भी किया तथा यहां पर पौधारोपण किया। कई गांवों में जाकर जल संरक्षण के उपायों का निरीक्षण किया। टीम सदस्य ने धारूहेडा के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में लगे रेन वाटर हार्वेस्टिंग, गांव मसानी व खिजूरी में स्थापित किए गए वाटर शेड तथा जेएलएन कैनाल व नर्सरी जैसे कार्यो को देखा। मौके पर अधिकारियों के साथ-साथ गांव मसानी, निखरी, खलियावास व डूंगरवास गांव के सरपंच भी मौजूद थे।

रेवाड़ी में नक्शे के माध्यम से मसानी बैराज की स्थिति का जायजा लेते केंद्रीय संयुक्त सचिव मधु रंजन कुमार, नीति आयोग के उप-सचिव डी बंधोपाध्याय।

डीसी के निर्देश- रेन हार्वेस्टिंग नहीं है उन्हें नोटिस दें डीसी यशेन्द्र सिंह ने टीम सदस्यों को बताया कि इस अभियान के लिए सभी विभागों के अधिकारियों जिम्मेदारियां सौंपी गई है। करवाए जा रहे कार्यों और अगले 15 दिन में करवाए जाने वाले कामों के बारे में भी बताया। कहा कि बरसाती पानी संग्रहण के लिए शहरों में सरकारी भवन, सार्वजनिक भवन, व्यवसायिक-औद्योगिक भवनों में व्यवस्था की जाएगी। डीसी ने बैठक में जिले के अधिकारियों को निर्देश दिये कि 500 स्केयर मीटर के अधिक के जो प्लाट हैं उनका सर्वे करें तथा जिनमें वाटर रिचार्ज के लिए रेन हार्वेस्टिंग नहीं है उन्हें नोटिस दें।

बैराज में छोड़ा जाए केवल ट्रीटेड पानी : विधायक कापड़ीवासर

प्रशासन की तरफ से केन्द्रीय टीम को प्रोजेक्ट के माध्यम से सिंचाई, वन व ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा जल शक्ति अभियान के तहत किए गए कामों को दिखाया गया। इसके बाद मसानी बैराज का निरीक्षण किया। इस अवसर पर रेवाडी के विधायक रणधीर सिंह कापडीवास विशेष रूप से उपस्थित थे। सिंचाई विभाग के एसई प्रवीन दहिया ने बताया कि मसानी बैराज में बरसात के मौसम में जो फालतू पानी होगा छोड़ा जाएगा। डीसी ने केन्द्रीय टीम को ड्राईंग के माध्यम से मसानी बैराज की स्थिति के बारे में जानकारी दी। विधायक ने कहा कि बैराज में जो भी पानी छोड़ा जाए वह ट्रीटिड हो।

X
Rewari News - haryana news central team reaching for review of hydroelectricity campaign will conduct 3 days inspection
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना