• Hindi News
  • Haryana
  • Rewari
  • Bawal News haryana news in the matter of extracting rs204 lakh from the account the accused have no clue even after 5 months
विज्ञापन

खाते से Rs.2.04 लाख निकालने के मामले में साढ़े 5 माह बाद भी आरोपियों का कोई सुराग नहीं

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 03:21 AM IST

Rewari News - बावल क्षेत्र के गांव दुल्हेड़ा खुर्द निवासी व्यक्ति के खाते से 2 लाख 4 हजार रुपए निकाले जाने के मामले में अभी तक...

Bawal News - haryana news in the matter of extracting rs204 lakh from the account the accused have no clue even after 5 months
  • comment
बावल क्षेत्र के गांव दुल्हेड़ा खुर्द निवासी व्यक्ति के खाते से 2 लाख 4 हजार रुपए निकाले जाने के मामले में अभी तक आरोपियों का सुराग नहीं लग पाया है। पीड़ित ने पीएम नरेंद्र मोदी के नाम पत्र भेजकर मदद की गुहार लगाई है। पत्र में पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठाए गए हैं।

दुल्हेड़ा खुर्द निवासी सेवानिवृत कर्मचारी राम प्रसाद जटिया ने शिकायत में कहा कि उसने भारतीय स्टेट बैंक शाखा बावल में खात खुलवाया हुआ है। सितंबर 2018 की सुबह राम प्रसाद ने बावल के छोटूराम चौक के निकट स्थित एटीएम से 10 हजार रुपए निकलवाए। आरोप है कि बूथ में मौजूद एक युवक ने मदद के बहाने उसका एटीएम कार्ड बदल लिया। इसके बाद उसके खाते से अलग-अलग ट्रांजेक्शन के माध्यम से 2 लाख 4 हजार रुपए ट्रांसफर कर निकाल लिए। पुलिस को शिकायत देकर केस भी दर्ज कराया गया, लेकिन अभी तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई है। राम प्रसाद के अनुसार जब जांच की गई तो बाछौद निवासी एक व्यक्ति के खाते में उसके खाते से 94 हजार रुपए ट्रांसफर किए जाने की जानकारी मिली। लेकिन अभी तक उस व्यक्ति के खिलाफ भी कार्रवाई नहीं की गई है। इसके लिए पुलिस अधिकारियों के साथ ही सीएम विंडो पर भी शिकायत दी जा चुकी है, मगर फिर भी मामला नहीं सुलझा। राम प्रसाद ने अब पीएम को पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगाई है।

94 हजार बाछौद निवासी के खाते में ट्रांसफर हुए, पीएम को पत्र भेज न्याय की गुहार...

कार्रवाई नहीं होने पर पीएम के नाम भेजा शिकायत पत्र दिखाते दुल्हेड़ा खुर्द निवासी रामप्रसाद।

X
Bawal News - haryana news in the matter of extracting rs204 lakh from the account the accused have no clue even after 5 months
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन