विज्ञापन

100 फीसदी अंक लेकर 7 स्टार बनने की कवायद में जुटी पंचायतें

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 05:25 AM IST

Rewari News - सात स्टार ग्राम पंचायत इंद्रधनुष योजना के तहत जिले की सभी 358 पंचायतों ऑनलाइन पंजीकरण कराने में लगी हुई है। प्रदेश...

Dahina News - haryana news panchayats engaged in the exercise of becoming 100
  • comment
सात स्टार ग्राम पंचायत इंद्रधनुष योजना के तहत जिले की सभी 358 पंचायतों ऑनलाइन पंजीकरण कराने में लगी हुई है। प्रदेश सरकार द्वारा तय किए गए मानकों में पिछले साल केवल 4 पंचायत ही चयनित की गई थी। लिंगानुपात, शिक्षा, स्वच्छता, पर्यावरण संरक्षण, शासन और सामाजिक भागीदारी के मानकों पर जो पंचायत खरी उतर पाएगी उसे 100 फीसदी अंक मिलेंगे।

इसमें पंचायतों को उनके प्रश्नों के हिसाब सभी स्टार की राशि भी अलग-अलग मिलती है। ग्राम पंचायत को ऑनलाइन आवेदन के लिए सातों स्टारों से जुड़े प्रश्नों के जवाब देने होंगे और उनसे जुड़ी प्रमाणिकता भी ऑनलाइन करनी होगी। इसके लिए जिला स्तर पर हरियाणा ग्रामीण विकास संस्थान द्वारा प्रशिक्षण भी करवाया जा रहा है। स्टार प्राप्त करने वाली पंचायतों को अप्रैल में सम्मानित किया जाएगा।



अवसर : 7 स्टार पाने वाली पंचायतें 20 लाख से अधिक के विकास के कार्य करा सकेंगी

छह स्टार जीतने वाले गांव 20 लाख रुपए तक के अतिरिक्त विकास कार्य करवाकर अपने गावं की सुंदरता बढ़ा सकते हैं। 5 स्टार के रेटिंग वाले गांवों को अतिरिक्त विकास कार्यों के लिए 15 लाख, 4 स्टार वाले गांवों को 10 लाख के अतिरिक्त विकास कार्य करवा सकते हैं। अधिक लड़कियों की आबादी वाले गांवों को 50 हजार रुपए उनके इनाम राशि के साथ बोनस के रूप में दिया जाएगा। स्वच्छता मिशन को अपनाने वाले को 50 हजार रुपए अतिरिक्त इनाम दिया जाएगा।

खंड कार्यालय से लें यूजर-पासवर्ड : डीडीपीओ

पंचायतों को विभाग द्वारा बनाई गई वेबसाइट पर आवेदन करना है। सभी पंचायतों का पंजीकरण होने के बाद एचआईआरडी करनाल की टीम द्वारा निरीक्षण कर चयनित किया जाएगा। सरपंच अपनी-अपनी पंचायतों के यूजर नेम व पासवर्ड संबंधित खण्ड कार्यालय से प्राप्त कर सकते हैं। सररपंच 7-स्टार रेनबो स्कीम में ज्यादा से ज्यादा भागीदारी करें।- डॉ. एसी कौशिक, डीडीपीओ, रेवाड़ी

7 रंगों के स्टार की यह होगी प्रामाणिकता गुलाबी स्टार-उन पंचायतों को दिया जाएगा जो लिंगानुपात में सुधार करने में उत्कृष्ट प्रदर्शन करती हैं। ग्रीन स्टार-पर्यावरण की सुरक्षा के लिए है। इसके लिए पटवारी, कृषि विकास अधिकारी और सरपंच द्वारा जारी प्रमाण पत्र जरूरी है। सफेद स्टार-स्वच्छता के लिए है। सफेद स्टार के लिए स्वच्छ भारत मिशन के खंड अधिकारी और सरपंच संयुक्त प्रमाण पत्र देना होगा। केसरिया स्टार- अपराध मुक्त गांवों के लिए है। इसके लिए संबंधित पुलिस थाना प्रभारी की ओर से प्रमाण पत्र देना होगा। दो बार इसकी जांच भी होगी। इसके अलावा आसमानी स्टार और गोल्डन स्टार भी है। सिल्वर स्टार-गांवों के विकास में भागीदारी के लिए सम्मानित किया जाएगा। ग्राम पंचायत की जीडीपी में भागीदारी और सरपंच द्वारा प्रमाणित होना जरूरी है।

पिछली बार इन्हें स्टार मिला वर्ष 2018 में शुरू हुई योजना में जिले की चार पंचायतों को स्टार रैंकिंग मिली थी। गांव दिदौली, फतेहपुरी टप्पा डहीना, कुमरौधा व भांडोर शामिल हैं।

X
Dahina News - haryana news panchayats engaged in the exercise of becoming 100
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन