--Advertisement--

दादी के साथ नीचे खेल रहे थे बच्चे, ऊपर पत्नी के 7 टुकड़े कर धोया खून

महिला के शव के टुकड़े मिलने के मामले में पुलिस ने आरोपी पति को पकड़कर खुलासा कर दिया है।

Dainik Bhaskar

Dec 17, 2017, 06:41 AM IST
गीतांजली की मौत दीवार पर सिर मारने से हुई थी। गीतांजली की मौत दीवार पर सिर मारने से हुई थी।

रोहतक. महिला की डेडबॉडी टुकड़ों में मिलने के मामले में पुलिस ने आरोपी पति को पकड़कर खुलासा कर दिया है। पति राजकुमार उर्फ राजू ने पत्नी के 3 नहीं 7 टुकड़े किए थे। उसने तीन अलग-अलग जगह इन्हें फेंका था, जिसमें से अभी पुलिस को तीन ही टुकड़े मिले हैं। उसकी पत्नी अनबन के बाद 5 महीने से ननदोई के साथ लिव-इन-रिलेशनशिप में रह रही थी। उसके बेटा-बेटी दादी के पास रहते थे। 13 नवंबर दोपहर को गीतांजलि कैथल से गांधी कैंप में अपने ससुराल सर्दी के कपड़े लेने के लिए आई थी। इस वक्त बच्चे ट्यूशन पढ़ने गए हुए थे। लकड़ी का काम करने वाला पति राजू घर की पहली मंजिल पर बने कमरे में अकेला था।

दीवार पर सिर मारने से हुई थी मौत

शाम 4 बजे दोनों के बीच कहासुनी होने पर राजू ने पत्नी का सिर दीवार को दे मारा। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि पत्नी की मौत के बाद उसने आरी से उसके सात टुकड़े किए। उसका सिर, छाती से ऊपर का हिस्सा, घुटनों तक का हिस्सा, टांगें और हाथ अलग-अलग किए। कमरे में फैले खून काे पानी से साफ किया। रातभर आरोपी ने इस बात की भनक नीचे रह रही अपनी मां और बच्चों को नहीं लगने दी। सुबह जब घर पर कोई नहीं था तब उसने शव के टुकड़ों को चद्दर व कपड़ों में लपेटकर बैग व कट्टों में डाल लिया। ऑटो किराए पर करके उसने तीन जगहों पर ये 7 टुकड़े फेंके। इनमें से तीन टुकड़ों पुलिस को अलग-अलग जगह से मिले। डॉक्टरों ने आशंका जताई थी कि ये टुकड़े एक ही महिला के हैं।

यहां फेंके शव के तीन हिस्से

1. मकड़ौली : ऑटो में शव के हिस्से रखकर आरोपी पहले मकड़ाैली पहुंचा। यहां उसने एक कट्टा फेंक दिया। इसमें छाती से ऊपर का हिस्सा था। पुलिस को यहां से 21 नवंबर को यह हिस्सा मिला। उसके पास से चादर, कट्टे, लेडीज टी-शर्ट, बनियान आदि बरामद की थी।
2. जेएलएन नहर : उसने सिर, हाथ और पैर एक कट्टे में डालकर जेएलएन नहर में फेंक दिए थे। पुलिस ने 1 दिसंबर को दादरी में नहर से एक पैर बरामद किया था।
3. पुराना शुगर मिल एरिया : आरोपी ने छाती से नीचे व घुटनों तक का हिस्सा पुराना शुगर मिल एरिया में फेंका था। पुलिस ने 11 दिसंबर को इसे बरामद किया। इसके पास से एक लेडीज लोअर व एक कट्टा बरामद हुआ था।

ननदोई की शिकायत के बाद आरोपी की तलाश में थी पुलिस

ननदोई राकेश ने कैथल में पुलिस को गीतांजलि के लापता होने की शिकायत दी थी। इसके बाद जब शव का हिस्सा मकड़ौली के पास मिलने की सूचना राकेश को मिली तो उसने पुलिस के पास पहुंचकर उसके कपड़ों की शिनाख्त कर दी थी। इसके बाद पुलिस के शक की सुई राजू पर थी।


अगले दिन ही घर से भाग दिल्ली में काटी फरारी, डी-पार्क से पकड़ा

आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह 13 नवंबर को अपनी पत्नी गीतांजलि की हत्या कर शव के हिस्साें को अलग-अलग स्थानों पर फेंककर घर पहुंच गया। रातभर घर पर ही सोया। इसके बाद दिल्ली व इधर-उधर घूमकर समय बिताने लगा। शव का एक हिस्सा मिलने की सूचना मिलने के बाद वह ज्यादा सतर्क हाे गया। पुलिस ने उसे डी-पार्क के पास से गिरफ्तार कर लिया।

मां का दावा-रेलवे स्टेशन थाने में करवाई थी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज


आरोपी राजकुमार उर्फ राजू की मां कुंती ने बताया कि पांच महीने पहले गीतांजलि अपने मायके जाने की बात कहकर गई थी। रेलवे स्टेशन से राजू ही उसको रेल में बैठाने गया था। मगर फिर गीतांजलि के भाई का फोन आया कि वो नहीं पहुंची। कई दिन तक उन्होंने वापस आने का इंतजार किया, लेकिन रेलवे स्टेशन थाने में उसके लापता हाेने की शिकायत कर दी थी। सास का दावा है कि गीतांजलि तो घर पर आई ही नहीं थी। पुलिस उसके बेटे को फंसा रही है।


पड़ोसी बोले-बहुत शरीफ आदमी है राजू, ऐसा काम नहीं कर सकता

पड़ोसियाें ने कहा कि राजू बहुत सीधा आदमी है। वह सुबह काम जाता था और शाम को सीधा घर पर आता था। कोई नशा नहीं करता था और न ही किसी के साथ विवाद था। पत्नी भी काफी दिनों से गई हुई है। कुछ दिन पहले छत पर दिखाई दी थी। राजू के परिवार में मकान के नीचले हिस्से में उसकी मां, एक भाई का परिवार और एक कुंवारा भाई रहता है। ऊपर राजू का परिवार रहता था। उसका एक भाई ऑटो चलाने का भी काम करता है। पुलिस को आशंका है कि राजू यह काम अकेले नहीं कर सकता। पुलिस को पहले ऑटो चालक की तलाश है। पुलिस अलग-अलग जगहों से बरामद शवों के टुकड़ों का डीएनए टेस्ट करवाएगी ताकि शव गीतांजलि के होने की ही पुष्टि हो सके।

7 साल पहले हुई थी पंजाब की गीतांजलि से शादी, पांच माह पहले उजड़ी गृहस्थी

पुलिस जांच में सामने आया है कि गांधी कैंप निवासी आरोपी राजकुमार की शादी 2010 में पंजाब के जालंधर के गड़ा निवासी गीतांजलि के साथ हुई थी। इसके परिवार में एक बेटा व बेटी है। आरोपी राजकुमार लकड़ी का काम करके परिवार चलाता था। जून, 2017 से गीतांजलि आरोपी के जीजा राकेश के साथ लिव-इन-रिलेशनशिप में कैथल में रहने लगी थी। इस वजह से उसका उसके जीजा से भी झगड़ा रहता था।

मौके पर जांच करती पुलिस की टीम मौके पर जांच करती पुलिस की टीम
मौके से जांच के बाद शव के कई नमूने लिए गए है। मौके से जांच के बाद शव के कई नमूने लिए गए है।
गीतांजली की लाश के टुकड़े तीन जगह से बरामद हुए हैं। गीतांजली की लाश के टुकड़े तीन जगह से बरामद हुए हैं।
गीतांजली की हत्या उसके पति ने की है। गीतांजली की हत्या उसके पति ने की है।
पुलिस हिरासत में है आरोपी पति। पुलिस हिरासत में है आरोपी पति।
X
गीतांजली की मौत दीवार पर सिर मारने से हुई थी।गीतांजली की मौत दीवार पर सिर मारने से हुई थी।
मौके पर जांच करती पुलिस की टीममौके पर जांच करती पुलिस की टीम
मौके से जांच के बाद शव के कई नमूने लिए गए है।मौके से जांच के बाद शव के कई नमूने लिए गए है।
गीतांजली की लाश के टुकड़े तीन जगह से बरामद हुए हैं।गीतांजली की लाश के टुकड़े तीन जगह से बरामद हुए हैं।
गीतांजली की हत्या उसके पति ने की है।गीतांजली की हत्या उसके पति ने की है।
पुलिस हिरासत में है आरोपी पति।पुलिस हिरासत में है आरोपी पति।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..