Hindi News »Haryana »Rohtak» By January 20 Minimum Temperature Will Be Five Degrees

बरसात के बाद अब बढ़ेगा कोहरे का असर, बर्फीली हवाएं बढ़ाएगी ठिठुरन

बुधवार को मौसम खुला, लेकिन इसी के साथ जम्मू-कश्मीर से आ रही बर्फीली हवाओं से मिजाज सर्द हो गया।

Bhaskar news | Last Modified - Dec 14, 2017, 07:49 AM IST

बरसात के बाद अब बढ़ेगा कोहरे का असर, बर्फीली हवाएं बढ़ाएगी ठिठुरन

रोहतक.शहर में दो दिन बूंदाबांदी और बादलवाही के बाद बुधवार को मौसम खुला, लेकिन इसी के साथ जम्मू-कश्मीर से आ रही बर्फीली हवाओं से मिजाज सर्द हो गया। बादलों के छंट जाने से सुबह से ही तेज सर्दी रही। शाम के बाद ठंडी हवाओं ने शीतलहर का अहसास कराया। रात में तो सर्दी के तेवर ज्यादा ही तीखे हो गए। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के असर के चलते सर्दी बढ़ने की संभावना जताई जा रही है। बुधवार को अधिकतम तापमान 21 और न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कोहरे की वजह से सुबह 6:30 बजे दृश्यता 100 मीटर होने के कारण वाहनों की रफ्तार थम गई।


पश्चिमी विक्षोभ के चक्रवात से यह स्थिति पैदा हुई है, जिससे उत्तर भारत के बर्फबारी वाले राज्यों से ठंडी हवाओं में तेजी आई। अगले दो-तीन में यह चक्रवात अन्य इलाकों में भी बर्फबारी व बारिश के हालात पैदा कर सकते हैं, उसके बाद सर्दी में और इजाफा होगा।

फसलों को होगा फायदा
कृषि विशेषज्ञों के अनुसार रबी की फसलों की बढ़वार के लिए सर्दी बढ़ना जरूरी है। सर्दी के साथ कोहरा आने से फसलों की अच्छी बढ़वार आएगी। फिलहाल मौसम में सर्दी बढ़ने के कारण सब्जियों के अलावा सभी फसलों को फायदा होगा।
रेलवे पर भी पड़ा असर
कोहरे का असर बुधवार को रेलवे पर भी पड़ा। इसके चलते अवध-असम एक्सप्रेस 13 घंटे की देरी से रोहतक पहुंची। श्रीगंगानगर इंटरसिटी 3 घंटे की देरी से और चार अन्य ट्रेनें भी कई घंटों की देरी से रोहतक स्टेशन पर पहुंची।

आगे क्या: मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार इस बार जनवरी में कड़ाके की ठंड पड़ेगी। उत्तरी क्षेत्र की सर्द हवाओं के कारण 20 जनवरी तक पारा 5 डिग्री तक पहुंच सकता है। उत्तरी इलाकों में बर्फबारी हो रही है। इससे जिले में घना कोहरा भी रहेगा। तापमान में भी एक डिग्री की गिरावट के आसार बने हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×