Hindi News »Haryana »Rohtak» Five Days After The Missing Follower Of Ram-Rahim, The Canal Received From The Canal

राम-रहीम की लापता अनुयायी का 5 दिन बाद नहर से मिली लाश, गले से मिला डेरा का लॉकेट

हत्या व आत्महत्या का पता नहीं, गले में था लॉकेट।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 13, 2017, 08:47 AM IST

  • राम-रहीम की लापता अनुयायी का 5 दिन बाद नहर से मिली लाश, गले से मिला डेरा का लॉकेट

    रोहतक।देव कॉलोनी से पिछले 5 दिन से लापता युवती का शव मंगलवार को जेएलएन में तिलियार झील के पास मिला है। मृतका युवती का परिवार डेरा सच्चा सौदा सिरसा का समर्थक है। युवती के गले से भी डेरा सच्चा सौदा का लॉकेट मिला है। कई लोगों ने युवती को अकेले ही नहर के पास देखा था।

    - सीसीटीवी फुटेज में भी युवती अकेले ही कहीं जाती हुई दिखाई दे रही है। अभी युवती के नहर में मिलने का खुलासा नहीं हो पाया है कि वह पानी के अंदर कैसे पहुंची। पुलिस ने शव को नहर से निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए पीजीआईएमएस में शवगृह में रखवा दिया है।

    - नहर में युवती का शव देख किसी राहगीर ने पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दी। सूचना मिलते ही थाना अर्बन स्टेट प्रभारी देवेंद्र मान और एफएसएल एक्सपर्ट सरोज दहिया की टीम ने मौके से साक्ष्य जुटाए। जांच में युवती की पहचान देवी काॅलोनी से लापता हुई रजनीश के रूप में हुई।

    - 7 सितंबर को कुरुक्षेत्र के अजराना निवासी चंद्र दत्त ने थाना पीजीआईएमएस में शिकायत दी थी वह अपनी पत्नी, बच्चों व 21 वर्षीय बहन रजनीश के साथ रोहतक की देव कॉलोनी में पांच वर्ष से किराए पर रह रहे हैं। उसकी पत्नी और वह नौकरी करते हैं। उसकी बहन बच्चों की देखभाल करती है।

    - 7 सितंबर को जब वे ड्यूटी से आए तो उनको रजनीश नहीं मिली। इसके बाद उन्होंने रजनीश की हरसंभव स्थान पर तलाश की, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा। इसके बाद पुलिस को शिकायत दी। उन्होंने बताया कि उनकी मां ने राम रहीम का नाम लिया हुआ है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rohtak News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Five Days After The Missing Follower Of Ram-Rahim, The Canal Received From The Canal
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×