Hindi News »Haryana »Rohtak» Four Gangster Arrest Lawyer Murder Case

जेल से गैंगस्टर ने बनाया था इस वकील की हत्या प्लान, सामने आई ये वजह

संदीप बड़वासनी के धर्म भाई रूपेंद्र ने उसकी हत्या का बदला लेने के लिए रची थी।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 16, 2018, 03:40 AM IST

  • जेल से गैंगस्टर ने बनाया था इस वकील की हत्या प्लान, सामने आई ये वजह
    +7और स्लाइड देखें
    11 दिसंबर को रात 9 बजे एक वकील की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वकील सत्यवान कहीं पर भी अकेला नहीं जाता था। वहीं, एक सप्ताह पूर्व ही उसने फॉरच्यूनर गाड़ी को बुलेटप्रूफ बनवाया था ताकि कभी हमला हो तो बचा जा सके।

    रोहतक.एडवोकेट सत्यवान मलिक की हत्या की साजिश सोनीपत जेल में रची गई थी। साजिश संदीप बड़वासनी के धर्म भाई रूपेंद्र ने उसकी हत्या का बदला लेने के लिए रची थी। संदीप की हत्या का आरोप रामकरण बैंयापुर गैंग पर लगा था। रूपेंद्र इस गैंग का मास्टर माइंड एडवोकेट सत्यवान मलिक को मानता था। रामकरण गैंग के संदीप बड़वासनी मर्डर केस में जेल में बंद होने के चलते पहले एडवोकेट सत्यवान को निशाने पर लिया गया। हत्या में शामिल रूपेंद्र ने किया मामले का खुलासा...

    - एडवोकेट मलिक की हत्या 11 दिसंबर को अजय उर्फ बिट्टू और रोहित उर्फ काली, विकास उर्फ फौजी, ओमबीर उर्फ नान्हा, अजय उर्फ चांद और ललित उर्फ लक्की वासी मंडोरा से करवा दी गई।

    - यह खुलासा पुलिस रिमांड के दौरान रूपेंद्र ने किया है। अब पुलिस ने हत्या के आरोपियों को पकड़ने के लिए 25-25 हजार रुपए इनाम रखने की सिफारिश की है।

    रामकरण को कोर्ट में मारने में ये ही शूटर दो बार हुए नाकाम
    शूटरों ने वकील की हत्या से पहले सोनीपत जेल में बंद रामकरण बैंयापुर की अदालत में पेशी के दौरान हत्या करने का दो बार प्रयास किया, लेकिन वे पुलिस की मुस्तैदी के चलते सफल नहीं हो पाए।

    2012 में संदीप से जुड़ा था रूपेंद्र

    - रूपेंद्र ने 2012 में अपने धर्म भाई संदीप के लिए परिवार त्याग दिया था। साल 2015 में संदीप बड़वासनी के कहने पर रूपेंद्र ने अपने साथियों के साथ मिलकर रामकरण बैंयापुर गैंग के शूटर विकास दुधिया की गन्नौर में पुलिस कस्टडी में हत्या की थी।

    - फरवरी 2017 में रामकरण बैंयापुर गैंग ने संदीप बड़वासनी का किडनैप करके उसका कत्ल करके शव गंगा नदी में बहा दिया था।

    - संदीप बड़वासनी के कत्ल के केस में रामकरण बैंयापुर और उसके कई साथी सोनीपत जेल में बंद है। वे जेल में रूपेंद्र पर बदला न ले सकने पर ताने मारते थे।

    - सोनीपत अदालत में अक्टूबर महीने में पेशी के दौरान रुपेंद्र ने अपने गांव के ललित उर्फ लक्की को कहा कि एडवोकेट सत्यवान मलिक रामकरण बैंयापुर गैंग का मास्टर माइंड है, जो सरेआम घूम रहा है। उसकी हत्या की योजना बनाई गई।

    2014 में हुई थी रामकरण बैंयापुर व संदीप बड़वासनी के बीच दुश्मनी
    - पुलिस जांच में सामने आया कि 2014 में संदीप बड़वासनी पर रामकरण की गाड़ी पर हमला करवाने का आरोप लगा।

    - किस्मत से रामकरण गाड़ी में नहीं था। इसके बाद से दोनों गैंग में दुश्मनी गहरा गई थी। फिर रामकरण के शूटर विकास दूधिया की गन्नौर अदालत में हत्या हुई।

    - इसके बाद संदीप बड़वासनी का किडनैप कर उसकी हत्या करने का आरोप रामकरण पर लगा।

    रविंद्र खाती हर सप्ताह मुलाकात कर देता था जानकारी
    - सोनीपत जेल में बंद रूपेंद्र से मिलने खरखौदा का घुन्ना वाले रविन्द्र खाती हर सप्ताह आता था।

    - प्लान की हर जानकारी उसे देता था। सत्यवान मलिक की हत्या की खबर भी रविन्द्र खाती ने रूपेंद्र तक पहुंचाई थी।

    12 जनवरी को रूपेंद्र का लिया था प्रोडक्शन वारंट
    - पुलिस की एंटी व्हीकल थेफ्ट टीम 18 दिसंबर को गैंगस्टर राजेश बवाना को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई थी।

    - इस दौरान पुलिस को इनपुट मिला था कि सोनीपत जेल में बंद रूपेंद्र उर्फ नन्हा ने वकील सत्यवान मलिक की हत्या की साजिश रची थी। 12 जनवरी को पुलिस रूपेंद्र को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई थी। उसे 6 दिन के रिमांड पर लिया था।

    रूपेंद्र ने जेल में ही शूटर अजय उर्फ चांद को बनाया दोस्त
    - खरखौदा के रहने वाले अजय उर्फ चांद चोरी की वारदात में सोनीपत जेल में बंद था। इसी वक्त अजय गैंगस्टर रूपेंद्र के संपर्क में आया तो बताया कि उसने पहले एक व्यक्ति की हत्या भी की हुई है।

    - इसके लिए रूपेंद्र ने अजय उर्फ चांद को भी वकील सत्यवान मलिक की हत्या के प्लान में शामिल कर लिया। जब 12 नवंबर को चांद जेल से बाहर निकला तो रविंद्र खाती ने चांद की अजय उर्फ बिट्टू से मुलाकात करवाई।


    अजय उर्फ बिट्टू कर चुका गायिका का कत्ल
    हरियाणवी गायिका बिन्नू चौधरी का अजय उर्फ बिट्टू ने हरिद्वार में कत्ल किया। झज्जर में दोस्त रवि के साथ मिलकर रवि के उसके साले व ससुर का कत्ल किया।
    रोहित उर्फ काली :रोहित को झज्जर पुलिस ने भारी संख्या में अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार किया था। करीब छह माह पहले ही संदीप बड़वासनी के गैंग से जुड़ा था।

  • जेल से गैंगस्टर ने बनाया था इस वकील की हत्या प्लान, सामने आई ये वजह
    +7और स्लाइड देखें
    शूटर रोहित उर्फ काली, अजय उर्फ बिट्टू, ललित उर्फ लक्की, ओमबीर उर्फ नन्हा, विकास उर्फ फौजी आदि 6 बदमाशों पर 25-25 हजार रुपये रखने की सिफारिश उच्चाधिकारियों से की गई है।
  • जेल से गैंगस्टर ने बनाया था इस वकील की हत्या प्लान, सामने आई ये वजह
    +7और स्लाइड देखें
    सत्यवान की हत्या के वक्त उसके गार्ड और ड्राइवर भी थे लेकिन वे उसे नहीं बचा पाए।
  • जेल से गैंगस्टर ने बनाया था इस वकील की हत्या प्लान, सामने आई ये वजह
    +7और स्लाइड देखें
    हरियाणवी गायिका बिन्नू चौधरी का अजय उर्फ बिट्टू (लेफ्ट) ने हरिद्वार में कत्ल किया था। रोहित करीब छह महीने पहले ही संदीप बड़वासनी के गैंग से जुड़ा था।
  • जेल से गैंगस्टर ने बनाया था इस वकील की हत्या प्लान, सामने आई ये वजह
    +7और स्लाइड देखें
    दिल्ली नंबर की स्कार्पियो को भी लूटा गया था और वह भी बाइक पर हेलमेट पहनकर। चूंकि वारदात के बाद तीन हेलमेट इस स्कार्पियों से ही मिले हैं।
  • जेल से गैंगस्टर ने बनाया था इस वकील की हत्या प्लान, सामने आई ये वजह
    +7और स्लाइड देखें
    गनमैन ने वकील सत्यवान मलिक को गाड़ी से उतरने के लिए मना किया था और कहा था कि वे खुद ही दवा ले अाएंगे, लेकिन वे नहीं माने। बोले कि दो मिनट का काम है अभी वापस आया।
  • जेल से गैंगस्टर ने बनाया था इस वकील की हत्या प्लान, सामने आई ये वजह
    +7और स्लाइड देखें
    सत्यवान का घर।
  • जेल से गैंगस्टर ने बनाया था इस वकील की हत्या प्लान, सामने आई ये वजह
    +7और स्लाइड देखें
    घटनास्थल से आरोपियों की गन बरामद की गई थी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rohtak News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Four Gangster Arrest Lawyer Murder Case
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×