Hindi News »Haryana »Rohtak» Girls Face Insecurity In College Campus

वीसी सर-हॉस्टल व रोज गार्डन के पास होती है छेड़छाड़, कैंपस में पीछा करती हैं गाड़ियां

सुपवा के बाद अब एमडीयू में छात्राओं के साथ छेड़छाड़ और कमेंटबाजी पर माहौल गर्माया है।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 30, 2018, 07:18 AM IST

वीसी सर-हॉस्टल व रोज गार्डन के पास होती है छेड़छाड़, कैंपस में पीछा करती हैं गाड़ियां

रोहतक.सुपवा के बाद अब एमडीयू में छात्राओं के साथ छेड़छाड़ और कमेंटबाजी पर माहौल गर्माया है। विवि में पहली बार बुलाई गई स्टूडेंट्स वेल्फेयर कमेटी की बैठक में छात्राओं ने सुरक्षा के मुद्दे पर विवि प्रशासन के सामने खरी-खरी सुनाई। छात्राओं ने बताया कि हॉस्टल से निकलते ही काले शीशे लगी गाड़ियां उनका पीछा करती हैं। आए दिन आउटसाइडर रोज गार्डन के पास उनसे छेड़छाड़ करते हैं और जब इसकी शिकायत की जाती है तो कोई असर नहीं होता है। गेट नंबर दो, रोज गार्डन, गर्ल्स हॉस्टल व लाइब्रेरी के आसपास लगातार ऐसी हरकतें बढ़ रही हैं। आउटसाइडर पीछा करते हुए छात्राओं पर भद्दे कमेंट करते हैं। सिक्योरिटी हेल्पलाइन पर कहने के बाद भी इन शिकायतों का समाधान नहीं हो पा रहा है। इस मामले को सुनते ही बैठक में मौजूद कुलपति बिजेंद्र पूनिया ने तुरंत कुलसचिव जितेंद्र भारद्वाज और सुरक्षा नियंत्रक तरुण शर्मा को तलब किया और मामले में संज्ञान लेने को कहा हैं। इन अधिकारियों के आने पर भी छात्राओं ने बताया कि आउटसाइडर की एंट्री नहीं रुक रही है। लाइब्रेरी के आसपास भी बाहरी तत्व आकर अक्सर कमेंट करके तेज गति से वाहन पर निकल जाते हैं।

इंटरनल एसेसमेंट में करते हैं भेदभाव : कई छात्राओं ने तो विभागों के अंदर होने वाले इंटरनल एसेसमेंट को लेकर भी आपत्ति जताई। छात्राओं ने बताया कि उनके विभागों में इंटरनल एसेसमेंट में अक्सर भेदभाव किया जाता है। इसके बारे में भी कई बार उच्च अधिकारियों को शिकायत की गई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती है। ये दोनों विभाग मैनेजमेंट विषयों से जुड़े हैं।

और बंद कर दी कैंपस सफारी :छात्राओं को हॉस्टल से कैंपस के विभागों और मुख्य गेट से हॉस्टल तक लाने ले जाने वाली कैंपस सफारी भी कई दिनों से विवि परिसर में नहीं चल पा रही है। इसके चलते छात्राओं को पैदल ही कैंपस में आना-जाना पड़ता है।

साइंस फेस्ट व प्लेसमेंट की मांग : स्टूडेंट्स ने मांग उठाई कि विवि में साइंस फेस्ट नहीं करवाया जा रहा है। जबकि इसे शुरु करवाया जाए तो साइंस विवि एमडीयू में स्टूडेंट्स को फायदा मिलेगा। वहीं सेंट्रल इंस्ट्रूमेंटल लैब बनाने की मांग की गई। साथ ही प्लेसमेंट की बेहतरीन व्यवस्था समेत लाइब्रेरी की क्षमता को बढ़ाने के लिए भी स्टूडेंट्स ने मांग की है।

सभी डिपार्टमेंट्स के टॉपर ने दिए सुझाव
विश्वविद्यालय के छात्र कल्याण कार्यालय की ओर से सोमवार को आयोजित इस बैठक में विश्वविद्यालय के शैक्षणिक विभागों के टापर्स और विभिन्न विद्यार्थी संगठनों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इस बैठक में विवि टॉपर्स व विद्यार्थी प्रतिनिधियों ने विद्यार्थियों के कल्याण के लिए जरूरी सुझाव दिए। इस बैठक का संयोजन अधिष्ठाता, छात्र कल्याण प्रो. राजकुमार ने किया। वहीं चीफ वार्डन बॉयज प्रो. राधेश्याम, चीफ वार्डन गल्र्स प्रो. राजेश धनखड़, रजिस्ट्रार जितेन्द्र कुमार भारद्वाज, परीक्षा नियंत्रक डॉ. बीएस सिन्धु, निदेशक जनसंपर्क सुनीत मुखर्जी, नियंत्रक सुरक्षा तरुण शर्मा शामिल हुए।

दिन में लगाया फाटक, रात में कर्मचारी नदारद
वहीं मडूटा की मांग पर विवि के रिहायशी क्षेत्र में फाटक लगाया गया है। इसका शुभारंभ सोमवार दोपहर को मडूटा प्रधान विकास सिवाच और एक्सईएन जगदीश दहिया की ओर से किया गया। 1लेकिन रात को यहां पर कोई सुरक्षा कर्मी तैनात नहीं मिला।

रात के समय भी मिले सुरक्षित माहौल : प्रदीप
इनसो के प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप देशवाल ने कहा कि बैठक में विवि में शिक्षक और स्टूडेंट्स की बॉयोमीट्रिक हाजिरी और मेट्रो की तर्ज पर वाहनों की आवाजाही से इन समस्याओं का समाधान हो सकता है, लेकिन विवि बजट का रोना रो रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rohtak News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: visi sr-hostel v roj gaaardn ke pass hoti hai chhedchhad, kainps mein pichhaa karti hain gaaaड़iyaan
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×