--Advertisement--

2 बहनों की शादी के 11 दिन बाद जीएनएम स्टूडेंट ने लगाई फांसी

शहर की अंबेडकर कॉलोनी में जीएनएम फाइनल ईयर की छात्रा ने संदिग्ध हालत में फांसी लगा कर जान दे दी।

Danik Bhaskar | Dec 16, 2017, 07:33 AM IST

रोहतक। शहर की अंबेडकर कॉलोनी में जीएनएम फाइनल ईयर की छात्रा ने संदिग्ध हालत में फांसी लगा कर जान दे दी। जान देने के कारण सामने नहीं आए हैं। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। रितु चार-भाई बहनों में सबसे छोटी थी। तीन बहनों में से दो की शादी चार दिसंबर को ही संपन्न हुई है। परिवार ने हंसी-खुशी दो बेटियों डोली विदा की है। अब अचानक छोटी बेटी के जाने से यह खुशी गम में बदल गई है। इस घटना से पूरा परिवार स्तब्ध है। फिलहाल शोकाकुल परिवार चुप है।


पुलिस को शुक्रवार शाम किसी ने एक युवती की संदिग्ध हालात में मौत की सूचना दी। इसके बाद एफएसएल प्रभारी डॉ. सरोज दहिया शिवाजी कॉलोनी थाना प्रभारी उमेद सिंह मौके पर पहुंचे और कार्रवाई शुरू की। जांच में सामने आया कि अंबेडकर कॉलोनी निवासी 22 वर्षीय रितु शहर के एक निजी कॉलेज से जीएनएम का कोर्स कर रही थी। शुक्रवार शाम को कॉलेज से आने के बाद वह अपने कमरे में गई थी। कुछ देर बाद उसकी चीख सुनाई दी। उसने स्टूल पर चढ़कर पंखे पर चुन्नी के फंदे में फांसी लगाई थी। परिजन वहां पहुंचे तो दरवाजा खुला मिला। जब तक उसे फंदे से उतारा, वह दम तोड़ चुकी थी। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए शवगृह भिजवाया। थाना प्रभारी उमेद सिंह का कहना है कि परिवार ने फिलहाल किसी तरह की शिकायत नहीं दी है। छात्रा के फांसी लगाने की वजह सामने नहीं आई है। परिवार ने भी किसी तरह के विवाद या परेशानी से इनकार किया है।