Hindi News »Haryana »Rohtak» Husband Killed Wife By Electric Cutter

पति ने इलेक्ट्रिक कटर से किए पत्नी के 7 टुकड़े, हत्या के बाद छिपा था यहां

इलेक्ट्रिक कटर से उसने पत्नी के शव के सात टुकड़े किए और उन्हें तीन अलग-अलग जगह फेंक दिया।

bhaskar News | Last Modified - Dec 18, 2017, 12:01 AM IST

    • गीतांजली की मौत दीवार पर सिर मारने से हुई थी।

      रोहतक. ननदोई के साथ पत्नी के अवैध संबंध से तंग आकर पति ने 13 नवंबर को दीवार में सिर मारकर उसकी हत्या कर दी थी। इलेक्ट्रिक कटर से उसने पत्नी के शव के सात टुकड़े किए और उन्हें तीन अलग-अलग जगह फेंक दिया। आरोपी जालंधर की रहने वाली पत्नी के शव को ठिकाने लगाने के बाद हत्या में इस्तेमाल कटर को अपने अमृतसर में अपने दोस्त के यहां छिपा आया।

      हत्या के बाद रातभर घर में रखा शव

      - पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसका दोस्त भी लकड़ी का काम करता है।

      - पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश कर 5 दिन के पुलिस रिमांड की मांग की थी, जहां कोर्ट ने आरोपी को एक दिन का पुलिस रिमांड दिया है।

      - आरोपी राजकुमार ने बताया कि उसकी शादी 2010 में पंजाब के जालंधर के गड़ा की रहने वाली गीतांजलि के साथ हुई थी। इसके परिवार में एक बेटा व बेटी है।

      - राजकुमार लकड़ी का काम करके परिवार चलाता है। जून 2017 से गीतांजलि आरोपी के जीजा राकेश के साथ लव इन रिलेशनशिप में कैथल जाकर रहने लीग थी। इसी वजह से उसका अपनी पत्नी व जीजा राकेश के साथ झगड़ा रहता था।

      - पुलिस जांच में सामने आया है कि 13 नवंबर को गीतांजलि कैथल से गांधी कैंप में सर्दी के कपड़े लेने के लिए आई थी। इस वक्त बच्चे ट्यूशन पढ़ने गए हुए थे।

      - राजू घर की पहली मंजिल पर बने कमरे में अकेला था। इसी दौरान राजकुमार उर्फ राजू की पत्नी के साथ कहासुनी हो गई थी।

      - इसके बाद आरोपी ने अपनी पत्नी का दीवार में सिर मारकर हत्या कर दी। इसके बाद रातभर शव को घर पर रखा। सुबह शव के टुकड़ों करके अलग-अलग स्थानों पर फेंक अाया।

      - पुलिस को 21 नवंबर को मकड़ौली से बिना सिर के छाती से ऊपर का हिस्सा, 1 दिसंबर को दादरी में नहर से एक पैर और 11 दिसंबर को पुराना शुगर मिल एरिया से छाती से नीचे से लेकर घुटनों तक का हिस्सा मिला था।

      - पुलिस को महिला के सिर, दोनों हाथ और पैर की तलाश है। आरोपी हत्या के बाद दिल्ली और पंजाब में रहा।


      मायका पक्ष दिखा रहा बेरुखी, मां के लेने हैं डीएनए सैंपल
      - इस मामले में लड़की के मायके वाले बेरुखी दिखा रहे हैं। बताया जा रहा है कि गीतांजलि के कैथल में अपने ननदोई के पास जाने से मायका पक्ष खफा था।

      - इस मामले में पुलिस में शिकायत भी ननदोई ने ही की है। उसकी मां को कई बार डीएनए टेस्ट के लिए जालंधर से बुलाया जा चुका है, लेकिन बार-बार टालमटोल की जा रही है।

      - अब पुलिस का दावा है कि दो-तीन दिन में परिवार जालंधर से आ सकता है। मृतका की मां के भी डीएनए सैंपल लेने हैं ताकि पुख्ता सबूत इकट्ठे किए जा सकें।


      पुलिस को आरोपी की कहानी में लग रहा झोल
      - पुलिस आरोपी से सख्ती से पूछताछ कर पूरे मामले की सच्चाई जाने की कोशिश कर रही है। मगर अब तक इस मामले में पुलिस पूरी कहानी नहीं जान पाई है।

      - इधर, पुलिस सूत्रों का कहना है आरोपी की पूरी कहानी में झोल भी लग रहा है। कहीं इसके साथ वारदात में कोई अन्य व्यक्ति भी शामिल न हो क्योंकि आरोपी पुलिस को बता रहा है कि उसने किराए के ऑटो में बैठकर शव के टुकड़ों को अलग-अलग स्थानों पर फेंका है, लेकिन जहां-जहां पुलिस काे शव के टुकड़े मिले हैं, उन स्थानों में काफी अंतर है।


    • पति ने इलेक्ट्रिक कटर से किए पत्नी के 7 टुकड़े,  हत्या के बाद छिपा था यहां
      +5और स्लाइड देखें
      मौके पर जांच करती पुलिस की टीम
    • पति ने इलेक्ट्रिक कटर से किए पत्नी के 7 टुकड़े,  हत्या के बाद छिपा था यहां
      +5और स्लाइड देखें
      मौके से जांच के बाद शव के कई नमूने लिए गए है।
    • पति ने इलेक्ट्रिक कटर से किए पत्नी के 7 टुकड़े,  हत्या के बाद छिपा था यहां
      +5और स्लाइड देखें
      गीतांजली की लाश के टुकड़े तीन जगह से बरामद हुए हैं।
    • पति ने इलेक्ट्रिक कटर से किए पत्नी के 7 टुकड़े,  हत्या के बाद छिपा था यहां
      +5और स्लाइड देखें
      गीतांजली की हत्या उसके पति ने की है।
    • पति ने इलेक्ट्रिक कटर से किए पत्नी के 7 टुकड़े,  हत्या के बाद छिपा था यहां
      +5और स्लाइड देखें
      पुलिस हिरासत में है आरोपी पति।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From Rohtak

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×