--Advertisement--

पोते की फीस भरने जा रहे पूर्व सैनिक से लिफ्ट देकर 75 हजार रुपए लूटे, दिनदहाड़े वारदात

बुजुर्ग अपने पोते की कॉलेज फीस भरने के लिए गुड़गांव जा रहा था।

Dainik Bhaskar

Jan 10, 2018, 07:33 AM IST
Lift 75 thousand rupees by giving lift

नांगलमूंदी. रेवाड़ी-महेंद्रगढ़ रोड पर बाइक सवार दो बदमाशों ने एक बुजुर्ग पूर्व सैनिक को लिफ्ट देने के बाद जंगल में ले जाकर उनसे 75 हजार रुपए लूट लिए। वारदात के बाद आरोपी बुजुर्ग को वहीं छोड़कर फरार हो गए। बुजुर्ग अपने पोते की कॉलेज फीस भरने के लिए गुड़गांव जा रहा था।

महेंद्रगढ़ जिला के गांव करीरा निवासी 78 वर्षीय मातादीन मंगलवार को 75 हजार रुपए लेकर रेवाड़ी आने के लिए अपने घर से निकला था। रेवाड़ी में अपने बेटे के पास रुकने के बाद उसे पोते की फीस जमा कराने गुड़गांव जाना था। कनीना में उसने अपनी पत्नी पोते पवन को निजी बस में बैठा दिया तथा खुद रेवाड़ी मोड पर रोडवेज बस का इंतजार करने लगा। इसी दौरान बाइक सवार एक युवक बुजुर्ग के पास आया और रेवाड़ी जाने का रास्ता पूछा। रास्ता बताने के बाद युवक ने कहा कि वह रेवाड़ी जा रहा है यदि आपको भी वहीं जाना है तो मैं छोड़ देता हूं। मना करने पर भी युवक ने जिद करके बुजुर्ग को बाइक पर बैठा लिया। कनीना से निकलते ही कुछ दूरी पर पैदल जा रहा एक अन्य युवक भी बाइक पर बैठ लिया। मातादीन ने कहा कि तीनों बाइक पर नहीं चल सकते इसलिए मुझे उतार दो, लेकिन युवकों ने किसी तरह की परेशानी नहीं होने की बात कहते हुए बाइक नहीं रोकी। युवकों ने बुड़ौली से निकलते ही मूंदी के पास स्थित बणी (जंगल) की तरफ बाइक को मोड़ दिया। मातादीन ने युवकों से इसका कारण पूछता तो उन्होंने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी तथा कुर्ते की जेब फाड़कर उसमें रखे 75 हजार रुपए मोबाइल फोन लूटकर फरार हो गए।

दुकानदारों ने दी पुलिस को सूचना
मातादीन जैसे-तैसे मूंदी बस स्टैंड पर पहुंचा और दुकानदारों को अपनी आपबीती बताई। दुकानदारों ने तुरंत डहीना पुलिस को इसकी सूचना दी। डहीना चौकी प्रभारी जितेन्द्र कुमार ने बताया कि अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कार्रवाई शुरू कर दी हैं। कनीना बस स्टैंड पर दुकानों के आगे लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज चेक की जा रही है। बदमाशों को पकड़ने के लिए अलग-अलग टीमें गठित कर दबिश दी जा रही है।

X
Lift 75 thousand rupees by giving lift
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..