Hindi News »Haryana »Rohtak» Maid Drink Toilet Cleaning Fluid

नौकरी छोड़कर भागना चाहती थी लड़की, नाकामयाब हुई पी लिया फिनाइल

झज्जर रेलवे स्टेशन मास्टर के यहां 24 घंटे काम करने के लिए आई पश्चिम बंगाल की एक लड़की को जब रेलवे के क्वार्टर में मौजूद

Bhaskar News | Last Modified - Dec 19, 2017, 05:09 AM IST

नौकरी छोड़कर भागना चाहती थी लड़की, नाकामयाब हुई पी लिया फिनाइल

झज्जर.झज्जर रेलवे स्टेशन मास्टर के यहां 24 घंटे काम करने के लिए आई पश्चिम बंगाल की एक लड़की को जब रेलवे के क्वार्टर में मौजूद एसएस के घर काम करना रास नहीं आया तो उसने सोमवार को फिनाइल पी लिया। उल्टियां होते देख घर के लोगों ने एसएस को सूचना दी। उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया और इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई।

रेलवे स्टेशन के एसएस भरतलाल मीणा की ड्यूटी सोमवार को डीघल रेलवे स्टेशन पर थी। उनकी पत्नी दिल्ली ड्यूटी पर थी। मीणा के रेलवे काॅलोनी वाले घर पर मौजूद पश्चिम बंगाल निवासी 17 साल की लड़की ने घर में रखा फिनाइल पी लिया। तबीयत खराब होने पर मीणा की मां व पड़ोसियों ने मीणा को सूचना दी।

इसके बाद उसे अस्पताल भर्ती कराया। लड़की ने बताया कि वह करीब दो हफ्ते से मीणा के घर है। उसका मन यहां नहीं लग रहा था। वह चुपचाप भागने की कोशिश करती थी। चूंकि वह एजेंट के जरिए आई थी तो मकान मालिक ने उसे समझाया और कहीं जाने से मना किया।

ऐसे में उसने घर में रखा फिनाइल पी लिया।

लड़की ने बताया कि वो रेलवे काॅलोनी में उसके साथ कोई ज्यादती नहीं हुई लेकिन उसे अपने घर पश्चिम बंगाल जाना है। तभी वह भागना चाहती थी।

दिल्ली की एजेंसी को 48 हजार सिक्योरिटी दे लाए थी लड़की
झज्जर के स्टेशन अधीक्षक भरतलाल मीणा ने अपने छोटे बच्चे और मां की देखभाल व घर के कामकाज के लिए 24 घंटे काम करने वाले घरेलू नौकरानी को दिल्ली की एक एजेंसी से हायर किया था। इसके लिए उसने कंपनी को नौकरानी के बदले 48 हजार रुपए की सिक्योरिटी भी दी थी। साथ ही 5 हजार रुपए महीना वेतन देने की बात हुई थी।


एसएस ने माना- गलती हुई, एजेंसी को लौटाया अफसाना को
झज्जर रेलवे स्टेशन के एसएस भरतलाल मीणा ने माना कि उनसे गलती हुई, जो एजेंसी के जरिए लड़की को लेकर आए। अब सोमवार को ही एजेंसी के स्टाफ को बुलाकर उसे वापस भेज दिया गया है। मीणा ने कहा कि उसके छोटे बच्चे व मां की देखभाल और उनके घर में अकेले रहने की समस्या को देखते हुए दिल्ली की एजेंसी से घरेलू नौकर मांगा गया था, लेकिन उन्होंने लड़की को भेज दिया। उसे घर का काम भी नहीं आता था। हम खुद परेशान थे। कई बार तो उसने खुद लड़की को भोजन बनाकर खिलाया। एसएस बोले कि अब वे प्रयास करेंगे की कोई लोकल महिला को ही घर पर काम कराने के लिए रखें।


एसएस ने किया लेबर एक्ट का उल्लंघन
झज्जर रेलवे स्टेशन के एसएस ने 17 साल की किशोरी को घरेलू नौकरानी के रूप में रखकर एक तरह से लेबर एक्ट का भी उल्लंघन किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×