--Advertisement--

मंत्री धनखड़ बोले- बेटियां स्टार देख कर करेंगी गांव में शादी

गांवों को बेहतर बनाए जाने का जिम्मा खासकर युवाओं और कुंवारों के जिम्मे होने की बात कही।

Danik Bhaskar | Feb 03, 2018, 06:54 AM IST

झज्जर | विकास एवं पंचायत मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने रेवाड़ी से शुरू हुई प्रदेश के गांवों को स्टार रेटिंग की बात पर गांवों को बेहतर बनाए जाने का जिम्मा खासकर युवाओं और कुंवारों के जिम्मे होने की बात कही। नेहरू काॅलेज में ग्रवित के जिला सम्मेलन में कृषि मंत्री ने कहा कि अब प्रदेश के गांवों की फिजा बदलने वाली है, जिस तरह से पंचायत जनसहयोग से काम कर रही हैं और सरकार ने बेहर गांव को स्टार देने की योजना शुरू की है, तब एक दिन ऐसा भी आएगा जब बेटियां अपने परिजनों से कहेंगी कि शादी से पहले गांव को दिया गया स्टार भी देख लो। उस गांव में महिलाओं की स्थिति कैसी है, पानी, बिजली की सुविधा है या नहीं। कन्या भ्रूण हत्या के मामले में कितनी रेटिंग है।


धनखड़ ने कहा कि ऐसे में गांव के कुंवारों की जिम्मेदारी बढ़ेगी कि वे अपने गांव को स्टार लेने के मामले में नीचा न होने दें। पंचायत मंत्री ने ग्रवित के युवाओं को अपने ग्राम देवता को सबसे सुंदर स्थल बनाने का आह्वान किया। कार्यक्रम का संचालन ग्रवित के संयोजक राजीव कटारिया ने किया। कार्यक्रम के मुख्यातिथि पद्मश्री अशोक भगत ने ग्रवित स्वयं सेवकों का अपना प्रेरणादायक संदेश देते हुए कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवीन भारत के निर्माण के लिए सामाजिक सरोकारों को अभियान का रूप दे रहे हैं। ग्रवित के रूप में हरियाणा देश में ऐसा पहला प्रयोगधर्मी राज्य है जहां पर युवा शक्ति को सामाजिक विकास से जोड़ कर एक बड़ा बदलाव किया जा रहा है। अशोक भगत ने बताया कि हर चीज के लिए सरकार को जिम्मेदार मानना उचित नहीं है।