Home | Haryana | Rohtak | Night of the moon will shine

रात को चमकेंगे मेट्रो के पिलर, उकेरी जाएगी आकर्षक डिजाइन्स

रात के दौरान बेहतर सौंदर्य दृष्टि और दृश्यता के लिए रात की चमक के विनाइल भी होंगे।

Bhaskar News| Last Modified - Jan 18, 2018, 07:28 AM IST

Night of the moon will shine
रात को चमकेंगे मेट्रो के पिलर, उकेरी जाएगी आकर्षक डिजाइन्स

बहादुरगढ़. मुंडका-बहादुरगढ़ मेट्रो कॉरिडोर के पिलरों पर चित्रकारी का हुनर नजर जाएगा। इतना ही नहीं, इंडियन ट्रेडिशनल जाली आर्ट वर्क भी देखने को मिलेगा। इन्हें खूबसूरत बनाने के लिए उन पर कलरफुल पेंटिंग की जाएगी और भित्ति चित्र भी बनवाए जाएंगे। इन पर रात के दौरान बेहतर सौंदर्य दृष्टि और दृश्यता के लिए रात की चमक के विनाइल भी होंगे। 


इससे शहर की सुंदरता में भी चार चांद लगेंगे। दिल्ली के कुछ मेट्रो रूटों पर यह खूबसूरत प्रयोग हुआ है। उसे देखते हुए डीएमआरसी ने थर्ड फेस के सभी  स्टेशनों और पिलर्स को सजाने का फैसला लिया है। बहादुरगढ़ कॉरिडोर भी थर्ड फेस का हिस्सा है।  

 

थीम पर होगा काम :

पेंटिंग और भित्ति चित्र किसी न किसी थीम पर बनेंगे। थीम क्या होगा, अभी उस पर चर्चा की जानी है, लेकिन संस्कृति,  क्षेत्रीय चित्रकारी, प्रकृति, वाइल्डलाइफ, पर्यावरण और टेक्नोलॉजी जैसे थीम का चयन तय है। देश की समृद्ध संस्कृति और विरासत के साथ ही आसपास के इलाकों की पहचान भी दर्शायी जाएगी।  

 

ये दिए जाएंगे संदेश :

वहीं, इन कलाकृतियों में जीवन के प्रति सम्मान, शिक्षा की भावना, प्रकृति के प्रति प्यार, चरित्र निर्माण, आध्यात्मिक खुलासा, भारतीय आदर्शों के लिए प्यार और दूसरों के लिए जीवित रहने के लिए सम्मान होगा। इन कलाकृतियों के माध्यम से हरियाली और पर्यावरण के संरक्षण के संदेश भी दिए जाएंगे।

 

इन विभागों से किया गठबंधन :

मेट्रो अधिकारियों के मुताबिक नेशनल बुक ट्रस्ट, पर्यटन विभाग, साहित्य अकादमी, भारत आवास केन्द्र, कपड़ा मंत्रालय समेत विभिन्न सरकारी निकायों और संगठनों के साथ गठबंधन किया गया है।  

 

स्टूडेंट्स के लिए भी हैं ऑप्शन : 

डीएमआरसी इन पिलर्स और मेट्रो स्टेशनों को डिजायन करने के लिए स्टूडेंट्स भी अपनी प्रतिभा दिखा सकते हैं। कई स्कूलों को विभिन्न तरीके से मेट्रो परिसर को सजाने के लिए अधिकृत किया है। इस से भारतीय कला, संस्कृति, साहित्य, क्राफ्ट, पर्यटन इत्यादि को बढ़ावा मिलेगा।  

 

कला व संस्कृति को बढ़ाने का प्रयास 
कला और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए डीएमआरसी तमाम स्टेशनों को आकर्षक रूप से सजा रही है। पिलर्स को भी परंपरागत भारतीय जाली के काम से सजाया जा रहा है। रात के दौरान ये सुंदर तरीके से चमकेंगे, जो देखने में मनमोहक होंगे। -अनुज दयाल, एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर, डीएमआरसी।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now