--Advertisement--

राजपूत समाज के हर घर पर एक रुपए जुर्माना, विरोध में कल बुलाई पंचायत

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2018, 05:49 AM IST

26 जनवरी को राव तुलाराम की प्रतिमा को तोड़ने के मामले में बुधवार को 36 बिरादरी की पंचायत खेल स्टेडियम में हुई।

One rupee fines at every house of Rajput society

झज्जर. झज्जर के गांव पाटौदा के खेल स्टेडियम में 26 जनवरी को राव तुलाराम की प्रतिमा को तोड़ने के मामले में बुधवार को 36 बिरादरी की पंचायत खेल स्टेडियम में हुई। मूर्ति तोड़ने में गांव के ही राजपूत समाज के दो युवाआें की गिरफ्तारी हाेने के बाद पंचायत में कहा गया कि इस कांड में कई और लोग शामिल हैं।

पंचायत में सभी बिरादरी के लोगों की 11 सदस्यीय कमेटी ने अहम फैसला लेते हुए कहा कि गांव के राजपूत समाज के हर घर पर एक-एक रुपए जुर्माना लगाया जाएगा। इस फैसले का राजपूत समाज के कई प्रतिनिधियों ने विरोध जताया। इसके विरोध में शुक्रवार को पंचायत बुलाई गई है। वहीं, यादव समाज में मूर्ति तोड़ने को लेकर रोष बना हुआ है।

हर मोहल्ले से 2-2 लोग आए
सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए रविवार को गांव में करीब एक दर्जन गांवों की महापंचायत में 3 दिन का अल्टीमेटम दिया गया था। उससे पहले ही बुधवार को गांव की 36 बिरादरी की एक पंचायत खेल स्टेडियम में हुई। पंचायत में समाज के हर मोहल्ले से 2-2 व्यक्ति शामिल हुए, जिसकी अध्यक्षता बुजुर्ग एवं समाजसेवी जगत सिंह ने की। तीन घंटे चली सर्वजातीय पंचायत में मूर्ति तोड़ने के घटनाक्रम पर माफी भी मांगी गई। इसके बाद 11 सदस्यीय एक कमेटी का गठन किया गया। इसका फैसला नरेंद्र कौशिक ने पढ़कर सुनाया।

यह लिए गए फैसले
1. 11 सदस्यीय कमेटी ने राजपूत समाज के हर घर पर एक रुपया जुर्माना लगाया।
2. प्रतिमा का दोबारा से निर्माण व समाज के हर घर से चंदा राशि एकत्रित करने की घोषणा की गई।
3. इस मामले में दर्ज केस को भाईचारे के लिए वापस लिया जाएगा।

सबक है यह फैसला : कौशिक
नरेंद्र कौशिक ने बताया कि पंचायत का यह फैसला किसी की भावना को आहत करने के लिए नहीं है, बल्कि यह फैसला सबक के रूप में है। बैठक में सभी जाति व समाज में एकता बनाए रखने के लिए इस प्रकार का फैसला लिया गया है। बैठक में ठाकुर नेत्रपाल, ठाकुर भंवर सिंह, महेश चौहान सहित काफी लोग मौजूद रहे।

11 सदस्यीय कमेटी में ये रहे शामिल
गांव पाटौदा में राव तुलाराम की प्रतिमा तोड़ने के लिए मामले में बुधवार को हुई पंचायत में 11 सदस्यीय कमेटी में नामबीर सिंह यादव, सतबीर सिंह, रघुबीर सिंह, राव अजय पार्षद पाटौदा, ठाकुर विजय सिंह, ठाकुर महेश सिंह, पंच सुरेन्द्र, पंच प्रमोद, पंच बालकिशन व नरेन्द्र कौशिक प्रमुख रूप से शामिल रहे।

समूचे समाज की बजाय, आरोपियों पर ही लगे जुर्माना : सरपंच
ठाकुर नेत्रपाल सिंह, महेश कुमार और सरपंच जयभगवान ने कहा कि पंचायत भाईचारा कायम रखने के लिए बुलाई गई थी। इस पर सभी सहमत थे, लेकिन जिस प्रकार से कमेटी ने समूचे राजपूत समाज पर एक-एक रुपए जुर्माना किया है, यह बात उचित नहीं है। फैसले के बाद राजपूत समाज में विरोध है। समाज का पक्ष है कि इस मामले में दोषियों पर ही यह जुर्माना हो, नकि समाज पर। मौजूदा फैसला राजपूत समाज पर एक प्रकार का कलंक है। समाज किसी भी रूप में मूर्ति तोड़ने के समर्थन में नहीं रहा है। मौजूदा फैसले में संशोधन किया जाए। इसके लिए अब राजपूत समाज की ओर से शुक्रवार को पंचायत बुलाई जाएगी, जिसमें समाज अपना पक्ष 36 बिरादरी के लोगों के बीच में रखेगा।

X
One rupee fines at every house of Rajput society
Astrology

Recommended

Click to listen..