--Advertisement--

लड़की ने पुलिस को किया फोन, बोली- मेरे भाई मोंटी को पिता ने मार डाला

पुलिस कंट्रोल रूम के 100 नंबर पर फोन करके कहा-मेरे भाई मोंटी को पिता ने मार डाला।

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2018, 03:04 AM IST
पिता की मौजूदगी में बेड खोला तो अंदर बेटे धर्म उर्फ मोंटी का लहूलुहान शव मिला। पिता की मौजूदगी में बेड खोला तो अंदर बेटे धर्म उर्फ मोंटी का लहूलुहान शव मिला।

रोहतक. समर गोपालपुर गांव की एक लड़की ने शनिवार शाम को पानीपत पहुंच कर पुलिस कंट्रोल रूम के 100 नंबर पर फोन करके कहा-मेरे भाई मोंटी को पिता ने मार डाला। डेड बॉडी घर के बेड के अंदर है। यह सुनते ही पानीपत पुलिस ने रोहतक सदर थाना पुलिस को फाेन किया। थाना इंचार्ज मंजीत मोर फौरन एक टीम लेकर गांव की तरफ दौड़े। पुलिस टीम जब लड़की चंचल के घर पहुंची तो उसके पिता तेजपाल घर के अंदर इत्मीनान से बैठे मिले। बेटे की हत्या के बारे में पूछा तो उसने हैरानी जताई।

बस अड्डे से किया फोन

- चंचल ने पानीपत बस अड्डे के बाहर से पुलिस कंट्रोल रूम को फोन किया था। इस पर एक टीम ने फौरन लड़की को हिरासत में ले लिया।

- पूछताछ करने के बाद रोहतक के सदर थाना प्रभारी को पूरी घटना से अवगत कराया।

पापा मुझे भी मारना चाहते थे
- चंचल के आरोप पर भी फिलहाल पुलिस को संदेह है क्योंकि पिता ने हत्या करने से साफ इंकार किया है।

- पुलिस रात 2 बजे तक हत्या का खुलासा नहीं कर पाई थी। मृतक 16 वर्षीय मोंटी ग्यारहवीं कक्षा का छात्र था।

- बहन चंचल 12वीं क्लास पास है। हत्या कितने बजे हुई, यह स्पष्ट नहीं मगर चंचल ने शाम करीब पांच बजे पानीपत पुलिस को फोन किया था।

- उसने बताया उसके पिता दो व्यक्तियों के साथ घर पर आए और उसके भाई को तेजधार हथियार से मार डाला। ये उसे भी मारना चाहते थे।

मां नहीं मिली घर पर
- पुलिस की टीम जब तेजपाल के घर पहुंची तो वह अकेला बैठा मिला। उसकी पत्नी घर पर नहीं थी।

- पुलिस ने उसे फोन करके बुलाया तो उसने भी हत्या की घटना से अनभिज्ञता जाहिर की। पुलिस ने आस पड़ोस में भी पूछताछ की मगर कोई जानकारी नहीं मिली। चंचल अभी पानीपत में ही है।

- पानीपत से लड़की के यहां पहुंचने के बाद पुलिस उससे पूछताछ कर मामले को सुलझाने का प्रयास करेगी।

मां बोली-चौकी से नहीं जाऊंगी, अब घर में क्या बचा
- मृतक मोंटी के पिता तेजपाल को हिरासत में लेने के बाद मां भी टिटौली चौकी पहुंच गई थी।

- उसने रोते हुए पुलिस से कहा-अब मेरा उस घर में बचा क्या है, मैं चौकी से बाहर नहीं जाऊंगी।

- इसके बाद पुलिस ने हिसार में महिला के मायकेवालों के पास फोन किया। हिसार से कुछ लोग आए और उसे अपने साथ ले गए।


थाना प्रभारी बोले- हत्या किसने की, अभी कहना मुश्किल
- सदर थाना प्रभारी मंजीत मोर का कहना है कि बेशक मृतक की बहन ने पानीपत पुलिस के सामने अपने पिता पर आरोप लगाया है मगर अभी कुछ स्पष्ट तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता।

- पिता की मौजूदगी में बेड खोला तो अंदर बेटे धर्म उर्फ मोंटी का लहूलुहान शव मिला। उसका गला कटा हुआ था। इसके बाद पुलिस ने पिता को हिरासत में ले लिया है।

- पानीपत से लड़की के आने के बाद पूछताछ करेंगे, फिर उसके आरोपों की जांच होगी।

मोंटी का गला कटा हुआ था। मृतक 16 साल का मोंटी ग्यारहवीं क्लास का छात्र था। मोंटी का गला कटा हुआ था। मृतक 16 साल का मोंटी ग्यारहवीं क्लास का छात्र था।
पुलिस की टीम जब तेजपाल के घर पहुंची तो वह अकेला बैठा मिला। उसकी पत्नी घर पर नहीं थी। पुलिस की टीम जब तेजपाल के घर पहुंची तो वह अकेला बैठा मिला। उसकी पत्नी घर पर नहीं थी।
पुलिस रात 2 बजे तक हत्या का खुलासा नहीं कर पाई थी। पुलिस रात 2 बजे तक हत्या का खुलासा नहीं कर पाई थी।
X
पिता की मौजूदगी में बेड खोला तो अंदर बेटे धर्म उर्फ मोंटी का लहूलुहान शव मिला।पिता की मौजूदगी में बेड खोला तो अंदर बेटे धर्म उर्फ मोंटी का लहूलुहान शव मिला।
मोंटी का गला कटा हुआ था। मृतक 16 साल का मोंटी ग्यारहवीं क्लास का छात्र था।मोंटी का गला कटा हुआ था। मृतक 16 साल का मोंटी ग्यारहवीं क्लास का छात्र था।
पुलिस की टीम जब तेजपाल के घर पहुंची तो वह अकेला बैठा मिला। उसकी पत्नी घर पर नहीं थी।पुलिस की टीम जब तेजपाल के घर पहुंची तो वह अकेला बैठा मिला। उसकी पत्नी घर पर नहीं थी।
पुलिस रात 2 बजे तक हत्या का खुलासा नहीं कर पाई थी।पुलिस रात 2 बजे तक हत्या का खुलासा नहीं कर पाई थी।

Recommended

Click to listen..