--Advertisement--

मर्डर से पहले सिंगर देती थी दोस्त को ये गालियां, नाराज हुआ तो किया था कत्ल

कलानौर की रहने वाली भजन व लोकगायिका ममता शर्मा मर्डर केस में पुलिस ने खुलासा कर दिया है।

Danik Bhaskar | Jan 21, 2018, 11:43 PM IST

रोहतक। सिंगर ममता शर्मा मर्डर केस में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस का दावा है कि ममता को उसके ही सहयोगी आर्टिस्ट मोहित वर्मा ने मारा है। ममता के शव को ठिकाने लगाने में उसका साथ कलानौर के ही रहने वाले संदीप ने दिया था। दोनों को अरेस्ट कर लिया गया है। पुलिस के अनुसार पिछले कुछ दिनों से मोहित और ममता में अनबन चल रही थी। पुलिस का कहना है कि ममता उसे टॉर्चर कर रही थी। उसे कई बार गालियां दे देती थी। उसकी मां-बहन के बारे में भी बुरा कह देती थी। इसी से मोहित उससे खुन्नस खाए रहता था। क्या है पूरा मामला


- पुलिस के मुताबिक मोहित वर्मा पेशे से स्टेज कलाकार है। दो साल पहले वो ममता के साथ उसके ग्रुप में काम करने लगा था।

- उसके प्रोग्राम में जाने के दौरान उसकी गाड़ी तक चलाता था। मोहित अक्सर ऐसे मौकों पर कैलाश कॉलोनी के ही अपने दोस्त संदीप की कार किराए पर ले जाता था।
- 14 जनवरी को गोहाना जाने के लिए दोनों कार में इकट्ठे निकले। रास्ते में ममता ने उसे गाली दी तो वो आपा खो बैठा।
- पुलिस के अनुसार मोहित ने उस दौरान अपने पास मौजूद एक चाकू से सीधे ममता के गले पर वार कर दिया।

- घाव गहरा बना तो ममता की मौत हो गई। बाद में मोहित ने संदीप को फोन कर उसे अपने पास बुलाया। फिर दोनों ने शव को बनियानी गांव के पास गन्ने के खेत में फेंक दिया।
- गाड़ी को एक नहर पर ले जाकर धोया। इसके बाद ममता के परिवारवालों के साथ पुलिस के पास पहुंचा और झूठी कहानी सुनाई। इतना ही नहीं ममता के बेटे भारत को साथ लेकर उसके लापता होने की शिकायत दर्ज कराने उसके साथ थाने भी गया।
- पुलिस को भी ब्रेजा कार में आए युवकों के साथ जाने की बात कह गुमराह करता रहा।

- शक होने के बाद पुलिस ने उसे ढील दी। जांच के दौरान मोहित पर शक हुआ तो सख्ती करने पर उसने सच्चाई उगल दी।

पुलिस खुलासे पर मृतका के परिजन नहीं कर रहे भरोसा
- वहीं ममता के परिजनों ने पुलिस के इस दावे पर ही सवाल उठाए हैं। पुलिस ने मर्डर की जो थ्योरी बताई है वो परिजनों के गले नहीं उतर रही है।
- शनिवार को इस खुलासे को लेकर एसपी पंकज नैन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। ठीक इसके बाद ममता शर्मा की बेटी हिना और अन्य परिवारवालों ने पुलिस के खुलासे में शामिल कई बिंदुओं पर सवाल उठाते हुए अपना शक जाहिर किया।
- सबसे बड़ा सवाल उठाते हुए हिना ने कहा कि पुलिस कह रही है कि उसकी मां ममता की हत्या करने के बाद आरोपियों ने शव खेतों में फेंक दिया। फिर नहर पर ले जाकर कार को धोया। लेकिन इन दिनों में आसपास के इलाके में किसी नहर में पानी नहीं चल रहा था। इसके अलावा हिना ने कहा कि उसकी मां के लापता होने व अब उसके मर्डर मामले में पुलिस लीपापोती कर रही है।

- शुरू से ही पुलिस ढीली कार्रवाई कर रही है। उन्होंने शिकायत 15 जनवरी को दी और पुलिस ने केस 16 जनवरी को दर्ज किया।
- मोबाइल लोकेशन जिस जगह की आई वहां पर पुलिस नहीं गई। हिना के अनुसार पुलिस उनके साथ इंसाफ नहीं कर रही है।
- वहीं परिवारवालों के आरोपों को लेकर एसपी पंकज नैन ने कहा कि पुलिस ने मामले में पूरी गंभीरता से काम किया है। जल्द ही परिजनों को भी सभी तथ्यों से वाकिफ करा दिया जाएगा।

पुलिस से ममता की बेटी हिना के सवाल
- अकेला मोहित नहीं कर सकता उसकी मां की हत्या। कई और इसमें शामिल, पुलिस के अनुसार गाड़ी चलाते मोहित ने उसकी मां को चाकू मारा, ऐसे में गाड़ी अनियंत्रित होने पर दुर्घटना होनी थी। गाड़ी पर कोई निशान नहीं है।
- पुलिस जिस नहर में गाड़ी धोने की बात कह रही है, उस नहर में कई दिनों से पानी ही नहीं है।
- 24 घंटे होते ही 15 जनवरी को पुलिस को शिकायत दी थी। जबकि एफआईआर 16 को दर्ज की गई, फिर भी पुलिस की नींद नहीं खुली।
- 15 को जनवरी जींद बाईपास की लोकेशन पुलिस को मिली, लेकिन पुलिस ने इसके बाद भी लोकेशन पर पहुंचने का कोई प्रयास नहीं किया।
- तीन दिन से पुलिस हिरासत में है। हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद क्यों नहीं हुआ।

पुलिस की थ्योरी के खिलाफ भी कई सवाल
- हत्या 14 जनवरी को हुई तो 18 जनवरी तक शव की हालत क्यों नहीं बिगड़ी। कहीं पुलिस हत्या के दिन को लेकर ही तो गुमराह नहीं हो रही।
- अगर मोहित ने हत्या की तो उसने हत्या के बाद उसका फोन क्यों चालू रखा।
- खेत के रास्ते पर चार दिन तक शव पड़ा होने पर भी कोई उसे क्यों नहीं देख सका।

एसपी पंकज नैन का जवाब आमने-सामने बिठा कर सारे जवाब दिलाएंगे
- ममता शर्मा मर्डर केस में पुलिस ने पूरी गंभीरता से काम किया है। हर तरह से जांच के बाद आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

- उनका चार दिन का रिमांड मिला है। इस दौरान मर्डर की सारी कड़ियां उनसे पूछताछ के आधार पर जोड़ी जाएंगी।

- अगर परिजनों को कोई शक है तो आरोपियों को उनके सामने बिठा कर उनके सवालों के जवाब दिलाए जाएंगे। पुलिस ने मामले में किसी स्तर पर लापरवाही नहीं की है। परिजनों को इंसाफ दिलाने के लिए पुलिस पूरी मुस्तैदी से काम कर रही है।

राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन प्रतिभा सुमन मिलीं ममता के परिजनों से, दिया सहयोग का भरोसा
- गायिका ममता शर्मा के घर शनिवार दोपहर करीब एक बजे हरियाणा राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष प्रतिभा सुमन पहुंची।

- परिजनों को मामले में उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। इस वक्त परिजनों ने अध्यक्ष के सामने परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी व आर्थिक सहायता दिलवाने की मांग रखी।

- इस पर आयोग अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सामने मांग रखने का आश्वासन परिवार को दिया।

- उन्हेांने कहा कि ममता शर्मा के परिवार को किसी भी स्तर पर कोई परेशानी नहीं होने दी जाएगी। महिला आयोग अपने स्तर पर भी इस परिवार की भरकस मदद करेगा।