--Advertisement--

सुमित हत्याकांड में युवती ने साधी चुप्पी, चाची को केस से बाहर कर सकती है पुलिस

डीघल के सुमित हत्याकांड की चश्मदीद गवाह बनी युवती ने चुप्पी साध ली है।

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 07:30 AM IST
सुमित की हत्या का आरोपी । सुमित की हत्या का आरोपी ।

झज्जर. डीघल के सुमित हत्याकांड की चश्मदीद गवाह बनी युवती ने चुप्पी साध ली है। युवती से मिलने के चक्कर में ही सुमित को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था। वहीं, इस हत्याकांड में चौथी महिला आरोपी को पुलिस केस से बाहर कर सकती है। अब तक की जांच में चौथी महिला आरोपी की कोई भूमिका सामने नहीं आई है।

शनिवार-रविवार की मध्य रात डीघल निवासी सुमित की हत्या गांगटान गांव में लाठी-डंडों से पीटकर कर दी गई थी। जिस घर में हत्या हुई उसके मकान मालिक और दिल्ली पुलिस के रिटायर्ड सिपाही संजय पर अपने भाई सुभाष के साथ मिलकर सुमित को मौत के घाट उतारने का आरोप है। इस मामले में सुमित के चाचा रमेश की सूचना पर संजय और सुभाष समेत इनकी पत्नी के खिलाफ पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया था। सोमवार को पुलिस ने सुभाष की पत्नी को छोड़कर तीनों को गिरफ्तार कर लिया।


अब पुलिस के समक्ष जो बयान सामने रहे हैं उसके अनुसार सुभाष की पत्नी यानी युवती की चाची की भूमिका इस हत्याकांड में सामने नहीं रही है। लिहाजा चौथी महिला के खिलाफ केस आगे चले इस पर अब सवालियां निशान बन गया है। आरोपी को अभी पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया है। अहम बात यह भी है कि जिस युवती ने युवक की जान की भीख उसकी हत्या के दौरान मांगी थी उसने अब चुप्पी साध ली है।

बयान नहीं दिया
सुमितहत्याकांड में अब तक तीन लोगों की गिरफ्तारी की गई है। चौथी महिला की भूमिका हत्याकांड में है या नहीं जांच के बाद ही फैसला लिया जा सकेगा। यह बात भी सही है कि युवती ने कोई बयान नहीं दिया है। वह इस मामले में फिलहाल न्यूटल है। तो उसने आरोपी और ही शिकायतकर्ता पक्ष के खिलाफ कुछ बोला है। -संदीपकुमार, थाना प्रभारी बेरी

कॉल डिटेल चेक करेगी पुलिस
बेरीथाना पुलिस सुमित हत्याकांड में सुमित और संजय की पुत्री के कॉल डिटेल चेक करेगी। मोबाइल के जरिए वे कब-कब एक-दूसरे के संपर्क में आए। युवक और युवती ने एक-दूसरे को कितने कॉल किए। कितने मिनट तक बात होती थी। हत्या वाले दिन दोनों की कब बात हुई। यह सब कॉल पुलिस अपनी जांच में शामिल करेगी।