Hindi News »Haryana »Rohtak» सांग से ग्रामीणों को किया स्वच्छता के लिए प्रेरित

सांग से ग्रामीणों को किया स्वच्छता के लिए प्रेरित

संस्कृति ही हमारे जीवन का आधार है, इसे बनाए रखने में ही हमारी शान है। यह बात समाज सेवी जगदीश प्रसाद ने शनिवार रात...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:35 AM IST

संस्कृति ही हमारे जीवन का आधार है, इसे बनाए रखने में ही हमारी शान है। यह बात समाज सेवी जगदीश प्रसाद ने शनिवार रात हरियाणा की लोक कला उत्थान विषय पर आधारित हरियाणवी सांग कार्यक्रम के दौरान कहे। यह सांग कार्यक्रम सोसायटी फॉर एजुकेशन एंड वेलफेयर एक्टिविटीज (सेवा) नांगल चौधरी संस्था द्वारा जिले गांव नांगल दर्गू में भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के सौजन्य से कला संस्कृति विकास परियोजना के तहत आयोजित करवाया गया।

संस्था द्वारा इस सांग कार्यक्रम को आयोजित करवाने का मुख्य उद्देश्य हरियाणा की विलुप्त होती लोक कलाओं के उत्थान पर जोर देना था। आज के इस सांग में धार्मिक लोक-कथाओं को स्टेज पर दर्शाया गया और ग्रामीणों को अपनी हरियाणवी संस्कृति को ना भूलने का संदेश दिया गया। हरियाणा की लोक-कलाओं के उत्थान के साथ-2 उन्होंने समाज को आज के दिन ग्रामीण स्वच्छता को भी बढ़ावा देने का आह्वान किया और ग्रामीणों को स्वच्छता कार्यक्रम में बढ़-चढ़ कर अपना योगदान देने के लिए प्रेरित किया तथा अपनी लोक कला व संस्कृति को भी ना भूलने का संदेश दिया। उन्होंने बताया कि आज डिजिटल युग है। लोग हर चीज को आसानी से पाना चाहते हैं कि जल्दी के चक्कर में अपनी कला, सभ्यता व संस्कृति को लोग भुला बैठे हैं यही कला एवं संस्कृति हमारे हरियाणा प्रदेश की शान है। इनके साथ गांव के पंच रमेश ने भी इस मौके पर ग्रामीण को स्वच्छता का संदेश दिया और बताया कि स्वच्छता सारी बीमारियों को खत्म करने का एक राम बाण है। इनके अलावा प्रवक्ता राजकुमार शर्मा भी इस मौके पर उपस्थित थे।

उन्होंने संदेश दिया कि आधुनिकता को अपनाना ठीक है, लेकिन आधुनिकता के चक्कर में अपनी कला एवं संस्कृति को भूलना सही नहीं है। हमारे प्रदेश का नाम इसकी समृद्ध संस्कृति से ही है। बालाजी मंदिर अध्यक्ष कृष्ण कुमार भी उपस्थित थे। अध्यापक सुरकेश कुमार जांगिड़ ने बताया कि संस्था के इस प्रकार के प्रेरणा दायक सांस्कृतिक कार्यक्रमों से ग्रामीणों में एक नई ऊर्जा का आगमन होगा। कार्यक्रम में संस्था के सचिव जगदेव शर्मा, को-आर्डिनेटर केला देवी, समाज सेवी झम्मन लाल, कमलेश, जगदीश व संस्था से जुड़े अन्य कलाकार उपस्थित थे।

कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य हरियाणा की विलुप्त होती लोक कलाओं के उत्थान पर जोर देना रहा

दयानंद चौक पर मासिक यज्ञ एवं विचार गोष्ठी का आयोजन

नारनौल |
दयानंद चौक पर जिला वेद प्रचार मंडल के तत्वावधान में मासिक यज्ञ एवं संगोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें क्षेत्र के आर्य प्रतिनिधियों ने भाग लिया। कप्तान, जगराम आर्य की अध्यक्षता में यज्ञोपरांत आयोजित वैचारिक संगोष्ठी में वक्ताओं द्वारा सामाजिक कुरीतियों के उन्मूलन की बात करते हुए अमर शहीद राजगुरु, सुखदेव व भगतसिंह को श्रद्धांजलि दी गई। कार्यक्रम में ब्रह्मा के रूप में उपस्थित रमेशचंद ने विधि विधान से यज्ञ संपन्न करवाया। वहीं आचार्य नरेन्द्रदेव ने क्रांतिकारी भगतसिंह का देश के नाम ऐलान गीत सुनाया और स्वतंत्रता की पृष्ठभूमि से अवगत करवाया। तुलसीराम आर्य ने यज्ञोपवीत की महिमा, पहनने के विधिविधान व यम-नियम के बारे में बताया तथा इसे सभी के लिए उपयोगी बताया। महाशय श्योचंद ने दयानंद के उपकारों से अवगत करवाया। आर्य समाज के प्रधान ओमकार आर्य व श्योचंद आर्य छापड़ा को साफा व वस्त्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। यज्ञ संगोष्ठि में उपस्थित डॉ कृष्णा आर्य ने बालिका सुरक्षा व स्त्री सशक्तिकरण में स्वामी दयानंद का योगदान विषय पर विचार व्यक्त किए। स्वामी कृष्णानंद, भूपेंद्रसिंह आर्य, लक्ष्मीनारायण, तुलसीराम, जैनारायण, झाबरमल, गजराज प्रधान, राय साहिब, आचार्य नरेंद्र, महाबीर प्रसाद, जगमोहन, राजसिंह, झाबरमल थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×