Hindi News »Haryana »Rohtak» ‘सेवा करना कठिन मगर समाज के लिए जरूरी’

‘सेवा करना कठिन मगर समाज के लिए जरूरी’

जनसेवा संस्थान निशुल्क पब्लिक स्कूल का 2 दिवसीय वार्षिकोत्सव रविवार को संपन्न हुआ। मुख्यातिथि सूर्यप्रकाश...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:50 AM IST

‘सेवा करना कठिन मगर समाज के लिए जरूरी’
जनसेवा संस्थान निशुल्क पब्लिक स्कूल का 2 दिवसीय वार्षिकोत्सव रविवार को संपन्न हुआ। मुख्यातिथि सूर्यप्रकाश अग्रवाल ने कहा कि सेवा करना कठिन कार्य है, लेकिन यह समाज के लिए जरूरी है। जन सेवा संस्थान ने इसे सरल बना दिया है। संस्थान अध्यक्ष महा मंडलेश्वर डॉ. स्वामी परमानंद ने कहा कि यह स्कूल समाज के सहयोग से आगे बढ़ता रहेगा।

उन्होंने मेहमानों,अभिभावकों का धन्यवाद किया। कार्यक्रम की अध्यक्ष कर रहे उद्योगपति राजेश जैन ने कहा कि लोग मोक्ष की प्रार्थना करते हैं, जबकि आवश्यकता जरूरतमंदों व असहाय लोगों की मदद करना है। अति विशिष्ट अतिथि उद्योगपति राजेंद्र बंसल ने भी विचार व्यक्त किए। वार्षिकोत्सव में विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। नर्सरी के बच्चों ने सुनो गौर से दुनिया वालों गीत, 8वीं कक्षा की छात्रा श्वेता ने माइम एक्ट की ओर से बालश्रम पर अपनी प्रस्तुति दी। भ्रूण हत्या पर पर ओ री चिरैया गीत पर की गई प्रस्तुति से वातावरण गमगीन हो गया। मुख्यातिथि सूर्यप्रकाश अग्रवाल व अध्यक्ष राजेश जैन ने स्कूल को संयुक्त रूप से नई बस भेंट की।

इस दौरान प्राचार्या सोनिया नागपाल ने स्कूल का वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। संस्थान कोषाध्यक्ष विनोद गुप्ता ने दानियों की सूची को पढ़कर सुनाया, जिन्होंने बच्चों के धर्म माता पिता बनना स्वीकार किया है। कार्यक्रम में सेठ मनमोहन गोयल, श्रीपाल अग्रवाल, हरिओम भाली, नरेश कुमार, राजीव जैन, ओपी डंग, एसके मंगल, उमा मंगल, जगदीश आदि उपस्थित रहे।

रोहतक. वार्षिकोत्सव में विद्यार्थियों को सम्मानित करते अतिथिगण।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×