• Home
  • Haryana
  • Rohtak
  • खेती से लेकर लोक कला का दिखेगा संगम
--Advertisement--

खेती से लेकर लोक कला का दिखेगा संगम

एमडीयू में फाल्गुन माह कुछ खास ही रहने वाला है। काफी दिनों से पढ़ाई में जुटे स्टूडेंट्स के लिए फरवरी में जमकर धमाल...

Danik Bhaskar | Feb 01, 2018, 01:15 PM IST
एमडीयू में फाल्गुन माह कुछ खास ही रहने वाला है। काफी दिनों से पढ़ाई में जुटे स्टूडेंट्स के लिए फरवरी में जमकर धमाल होगा। इसके लिए अभी से विवि की ओर से तैयारियां शुरु कर दी गई है। इसमें शिक्षा से लेकर मनोरंजन तक का पूरा कार्यक्रम तय किया गया है। इसकी शुरुआत 4 फरवरी को सीएम मनोहर लाल के आगमन से ही हो जाएगी। एमडीयू में सीएम शिक्षकों के लिए फ्लैट्स की आधारशिला रखेंगे। इसके बाद तीन दिन तक लोक कला का संगम देखने को मिलेगा।

एमडीयू में 17, 18 और 19 फरवरी को लोक विधा के वास्तविक दर्शन होंगे। इस दौरान लोक नृत्य से लेकर पीढ़ा, सांझी, फुलझड़ी, चीतन, मांडण के अलावा लोक खेल पिट्ठू, स्टापू जैसे पारंपरिक खेलों का रोमांच देखने को मिलेगा। पिछले वर्ष फाग मेला के तौर पर इस कार्यक्रम को मनाया गया था। इस बार इसे लोक उत्सव के तौर पर मनाया जाएगा।

चार फरवरी को सीएम मनोहर लाल भी आएंगे एमडीयू में, होंगे कार्यक्रम

सात दिन में सीखेंगे नाट्य विधा

एमडीयू में डीएसडब्लू के निदेशक डॉ. जगबीर राठी का कहना है कि एमडीयू में सात दिन तक थियेटर फेस्ट का भी आयोजन किया जाएगा। 16 से 22 फरवरी तक होने वाले थियेटर फेस्ट में 7 नाटकों का मंचन किया जाएगा। इसमें शाम को साढ़े 5 बजे से साढ़े 7 बजे तक नाटक करवाए जाएंगे और दिन के समय नाट्य विधा पर सेमीनार किए जाएंगे। इसका मकसद संगीत, हिंदी, अंग्रेजी और पत्रकारिता विभाग के स्टूडेंट्स नाट्य विधा के बारे में जानकारी ले पाएंगे।

प्राकृतिक खेती का पढ़ाएंगे पाठ

वहीं 17 फरवरी को हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत जीरो बजट प्राकृतिक खेती के बारे में बताएंगे और एमडीयू से एक किसान-एक जवान परियोजना का शुभारंभ किया जाएगा। इस दौरान जिले केे 500 किसान और एमडीयू से यूथ रेडक्रॉस और एनएसएस वालंटियर इसमें शिरकत करेंगे।