Hindi News »Haryana »Rohtak» छात्रों को आंत्रप्रेन्योर करना सिखाएंगे तकनीकी संस्थान

छात्रों को आंत्रप्रेन्योर करना सिखाएंगे तकनीकी संस्थान

सिटी रिपोर्टर

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 01:20 PM IST

सिटी रिपोर्टर छात्रों को इंडस्ट्रियल ओरिएंटेड बनाने के लिए अब तकनीकी संस्थान उन्हें आंत्रप्रेन्योर करना सिखाएंगे। इसके लिए ऐसे डिग्री और डिप्लोमा कराए जाएंगे। ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई) ने यह इनिशिएटिव लिया है। जिसके तहत अलग-अलग कोर्स तैयार किए गए हैं। 12वीं पास के लिए बैचलर ऑफ वोकेशनल, 10वीं पास के लिए डिप्लोमा ऑफ वोकेशन और 10वीं से कम पढ़े छात्रों के लिए डिप्लोमा ऑफ स्किल का प्रोग्राम कराया जाएगा। जो भी तकनीक संस्थान इस तरह का डिप्लोमा कराएंगे उन्हें संबंधित यूनिवर्सिटी और बोर्ड ऑफ टेक्निकल एजुकेशन को बताना होगा। यह सभी प्रोग्राम वर्तमान इंडस्ट्री को ध्यान में रखकर तैयार किए गए हैं। एआईसीटीई के जो भी स्किल नॉलेज प्रोवाइडर (एसकेपी) हैं, छात्र उन संस्थानों के संसाधनों का उपयोग कर सकेंगे। उदाहरण के तौर पर अब रोहतक का स्टूडेंट दिल्ली के एसकेपी संस्थान के संसाधनों का उपयोग कर सकेगा। साथ ही, संस्थान छात्र को संबंधित काम का क्रेडिट भी देगा।

यह हैं प्रोग्राम : इसमें ऑटोमोटिव मैन्युफैक्चरिंग टेक्नोलॉजी, ऑटोमोटिव सर्विसिंग, मेडिकल इमेजिंग टेक्नोलॉजी, इंडस्ट्रियल टूल मैन्युफैक्चरिंग, प्रोडक्शन टेक्नोलॉजी, सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट, बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विसेज एंड इंश्योरेंस, ग्राफिक्स एंड मल्टीमीडिया, प्रिंटिंग एंड पैकेजिंग शामिल है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×