Hindi News »Haryana »Rohtak» Cm Suspend Officer And Conductor

अवैध खनन की शिकायत पर खनन अधिकारी और छात्रा से दुर्व्यवहार पर कंडक्टर निलंबित

सीएम ने जनता दरबार में अवैध खनन की एक शिकायत पर जिला खनन अधिकारी राजेश सांगवान को निलंबित करने के आदेश दिए हैं।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 14, 2017, 02:38 AM IST

नारनौल. सीएम मनोहर लाल ने नारनौल में लगे जनता दरबार में अवैध खनन की एक शिकायत पर जिला खनन अधिकारी राजेश सांगवान को निलंबित करने के आदेश दिए हैं। इसके अलावा बस में छेड़छाड़ की एक घटना पर सीएम ने बस कंडक्टर रघुवीर को तुरंत निलंबित करने के आदेश दिए।


महेंद्रगढ़ में रोडवेज ट्रेनिंग स्कूल में बायोमैट्रिक से हाजिरी ना लगाए जाने की शिकायत पर सीएम नाराज हो गए। अपनी ओर से पक्ष रखने आए जीएम सुरेंद्र यादव को कहा- तुम्हारी बहुत शिकायतें आ रही हैं। सबूत आने वाले हैं। अपने जाने की तैयारी करो। वहीं जनता दरबार में पहुंची 500 शिकायतों में से 50 को उन्होंने सुना और 300 पंजीकृत समस्याओं का समाधान करने के आदेश दिए। इसके अलावा ऑडिटोरियम से ही मुख्यमंत्री ने जिलेभर के लिए 10 विकास परियोजनाओं की घोषणाएं की। 10 परियोजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन किया। एक तरफ सीएम ने सख्ती दिखाई। वहीं दूसरी ओर से कुछ पीड़ितों पर दयालुता दिखाते हुए किडनी ट्रांसप्लांट कराने पर महंगा इलाज होने पर महिला के आर्थिक सहायता मांगने पर उन्होंने डीसी को उसे उपचार व दवाइयों के लिए 50 हजार रुपए दिलवाने के आदेश दिए। इसके अलावा उन्होंने शारीरिक रूप से अशक्त एक महिला को उपचार के लिए 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता देने का भी ऐलान किया। वहीं कार्यकर्ताओं की बैठक में सीएम ने कहा कि लोगों को सरकार की उपलब्धियां बताएं और कोई सुझाव है तो वह भी दे सकते हैं। सीएम ने कहा कि सरकार जीरो टालरेंस की नीति पर चल रही है। भ्रष्टाचार किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे लोगों के काम तय समय में करें। दूर-देहात से आने वाली गरीब जनता के पास इतना समय व पैसा नहीं होता कि वह बार-बार मुख्यालय के चक्कर काटता रहे।

इधर, ‘मन’ की बात ‘मन’ में दबाए रह गए कार्यकर्ता

जिला दर जिला आमजन की शिकायत सुनने के अभियान पर निकले सीएम को जब हर जगह अपनी सरकार के बनने के बाद भी कार्यकर्ताओं की भड़ास सुननी पड़ रही है तो नारनौल आने पर उन्होंने बैठक लेने का अपना तौर-तरीका ही बदल डाला। सोमवार सुबह सीएल फार्म हाउस में कार्यकर्ताओं के मन की बात सुनने से पहले उनके ‘मनोहर’ ने आते ही माइक संभाला। सरकार बनने से पहले के अपने संगठन महामंत्री की स्टाइल पकड़ी और कहा कि आज की बैठक में हमने क्या किया-यह बताना है। पब्लिक क्या सोच रही है, यह भी बताएं। यह सुनकर कुछ कहने का मन बनाकर हल्की ठंड में सुबह 8 बजे उस मीटिंग हाल में कुर्सियों पर बैठे कार्यकर्ता मन मसोसकर रह गए। अधिकांश के शब्द भी बाहर खुल कर नहीं निकले। जो निकले उनमें से अधिकतर सरकार और सिस्टम का गुणगान करने वाले थे। हालांकि इस बैठक से मीडिया को दूर रखा गया था, किंतु जब अंदर से बाहर मायूस चेहरे निकले तो उन्होंने दबी जुबान में बताया कि ऊपर से निर्देश थे कि कम और नापतौल कर बोलना। सीएम ने आते ही माइक पर मीटिंग का एजेंडा बता दिया। इसके बाद चुप्पी छा गई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×