• Hindi News
  • Haryana
  • Rohtak
  • रोहतक: जसिया रैली में आंदोलन का हो सकता है ऐलान, प्रशासन ने सुरक्षा बढ़ाई

रोहतक: जसिया रैली में आंदोलन का हो सकता है ऐलान, प्रशासन ने सुरक्षा बढ़ाई / रोहतक: जसिया रैली में आंदोलन का हो सकता है ऐलान, प्रशासन ने सुरक्षा बढ़ाई

जसिया में अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति की भाईचारा रैली शुरू हो गई है।

dainikbhaskar.com

Aug 12, 2018, 03:31 PM IST
रोहतक: जसिया रैली में आंदोलन का हो सकता है ऐलान, प्रशासन ने सुरक्षा बढ़ाई

रोहतक। हरियाणा में एक बार फिर से जाट आरक्षण आंदोलन उग्र होते दिखाई दे रहा है। इसी के चलते रविवार को रोहतक के जसिया में जाट समुदाय के लोगों ने भाईचारा सम्मेलन का आयोजन किया है। रैली के मंच से जाट नेता एक-एक करके सरकार पर शाब्दिक आक्रमण किए, वहीं इस बार समुदाय के नेताआें के निशाने पर प्रदेश के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु भी हैं। खास बात यह भी है कि वह खुद जाट समुदाय से ताल्लुक रखते हैं और साल 2016 में जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान उनके परिवार को खत्म करने की साजिश के तहत उनके घर में आगजनी किए जाने का मसला भी खासा चर्चा में है। आज जाट नेताओं ने ऐलान किया कि 16 अगस्त से हरियाणा के 9 जिलों में अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू किया जाएगा। साथ ही सीएम के हर कार्यक्रम में धरना दिया जाएगा।

रोहतक के जसिया में भाईचारा सम्मेलन में पहुंचे जाट नेता यशपाल मलिक ने कहा कि मुख्यमंत्री ने आरक्षण संबंधित जो मांगें मानी थी, वो अब तक लागू नहीं हुई हैं, इसलिए अब अनिश्चितकालीन आंदोलन किया जाएगा। जब तक सरकार उनकी मांगे नहीं मानेगी, तब तक ये आंदोलन जारी रहेगा।

विधानसभा सत्र से पहले फैसले लें राजनीतिक पार्टियां
यशपाल मलिक ने कहा आरक्षण को लेकर 17 अगस्त से शुरू होने वाले विधानसभा सत्र से पहले सभी राजनीतिक दल फैसला लें। वहीं अगर सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानी तो वो मुख्यमंत्री के कार्यक्रमों में जाकर धरना देंगे।

कैप्टन अभिमन्यु पर बिफरे यशपाल
यशपाल मलिक ने वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु पर निशाना साधते हुए कहा कि कैप्टन अभिमन्यु ने 2016 आंदोलन की साजिश रची थी और वो हरियाणा को जलवाना चाहते है।

पूरी बीजेपी है चंदाखोर: यशपाल
कैप्टन अभिमन्यु के यशपाल मलिक पर चंदे वाले बयान पर उन्होंने बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि पूरी बीजेपी चंदाखोर है, इस पार्टी को करोड़ों का चंदा आता है और इसी चंदे से इनकी रोजी-रोटी चलती है।

1 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी संभाले हुए हैं सुरक्षा का जिम्मा

दूसरी ओर, रैली को लेकर पुलिस ने कड़ी सुरक्षा की है। अलग-अलग स्थानों पर एक हजार से अधिक पुलिसकर्मियों ने मोर्चा संभाल रखा है। प्रशासन ने जिले में धारा-144 लागू कर दी है। वहीं पुलिस ने शहर के चारों तरफ नाकाबंदी कर दी है। रैली में आने वाले वाहनों को शहर के अंदर एंट्री नहीं दी जा रही है। पुलिस फोर्स को हिदायत दी गई है कि कोई भी लापरवाही नहीं होनी चाहिए। जसिया में रैली स्थल होने के कारण पुलिस-प्रशासन ने रोहतक-पानीपत हाईवे पर बड़े वाहनों को बंद कर दिया है। बड़े वाहनों को गोहाना से होते हुए पानीपत या रोहतक में भेजा ज रहा है। छोटे वाहन चलते रहेंगे। रैली खत्म होने के बाद रूट को पहले की तरह सुचारू कर दिया जाएगा।

X
रोहतक: जसिया रैली में आंदोलन का हो सकता है ऐलान, प्रशासन ने सुरक्षा बढ़ाई
COMMENT