• Home
  • Haryana
  • Rohtak
  • चांद का दीदार होने पर एक- दूसरे को गले मिलकर दी रमजान माह की मुबारकबाद
--Advertisement--

चांद का दीदार होने पर एक- दूसरे को गले मिलकर दी रमजान माह की मुबारकबाद

रोजे, नमाज और दुआओं वाले पाक माह रमजान की शुरुआत गुरुवार को चांद का दीदार होने पर हुई। मुस्लिम समुदाय के लोगों ने...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:35 AM IST
रोजे, नमाज और दुआओं वाले पाक माह रमजान की शुरुआत गुरुवार को चांद का दीदार होने पर हुई। मुस्लिम समुदाय के लोगों ने एक-दूसरे के गले मिल रमजान माह की मुबारकबाद दी। रमजान माह का पहला रोजा शुक्रवार को मनाया जाएगा। पाक माह का रोजा सुबह 3:55 बजे सेहरी के साथ शुरू हो जाएगा और पहली इफ्तारी शाम 7:11 बजे होगी। रमजान माह के पहले दिन की जुम्मेरात होने पर मुस्लिम समुदाय के लोगों में खुशी की लहर है। हालांकि, एक दिन की देरी से रमजान माह शुरू हो रहा है। दरअसल बुधवार को चांद दिखने पर रमजान माह की शुरूआत होनी थी, लेकिन चांद नहीं दिखाई दिया। शाम होते ही मुस्लिम समुदाय के लोगों ने छतों पर चढ़कर चांद का इंतजार करना शुरू कर दिया था। और नहीं दिखाई दिया। इसलिए दिल्ली और मुंबई से भी रमजान माह की घोषणा नहीं की गई। चमेली मार्केट स्थित जामे मस्जिद शीशे वाली के इमाम मौलाना अब्दुस सलाम ने बताया कि 16 मई को चांद नहीं दिखाई दिया था, इसलिए वीरवार शाम को चांद देख तरावीह की नमाज पढ़ी गई। किला रोड स्थित प्राचीन लाल मस्जिद के इमाम सैय्यद मोहम्मद तसलीम ने बताया कि पहला रोजा शुक्रवार को जुमा पर होगा। तेज गर्मी में सभी रोजे 15 घंटे से ज्यादा समय तक रखे जाएंगे।