• Home
  • Haryana
  • Rohtak
  • पंक्चर टायर बदल डिग्गी में स्टेपनी रख रहा था प्रॉपर्टी डीलर, दो युवक कार लेकर हुए फरार
--Advertisement--

पंक्चर टायर बदल डिग्गी में स्टेपनी रख रहा था प्रॉपर्टी डीलर, दो युवक कार लेकर हुए फरार

बोहर आउटर बाईपास पर गुरुवार सुबह करीब दस बजे प्रोपर्टी डीलर की दो युवक कार छीनकर फरार हो गए। भालौठ गांव का कप्तान...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:35 AM IST
बोहर आउटर बाईपास पर गुरुवार सुबह करीब दस बजे प्रोपर्टी डीलर की दो युवक कार छीनकर फरार हो गए। भालौठ गांव का कप्तान फौगाट अपने दांतों के उपचार के लिए रोहतक पीजीआई आ रहा था। रास्ते में उसकी कार में पंचर हो गया। उसने वहीं पर गाड़ी रोककर टायर बदल लिया। जब वह पंचर हुए टायर को गाड़ी में रखने लगा तो इसी वक्त दो युवक आए। जिन्होंने उसे गाड़ी की चाबी व दो मोबाइल फोन छीन ले गए। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

भालौठ गांव के कप्तान फौगाट ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह प्रोपर्टी डीलर का काम करता है। गुरुवार की सुबह करीब दस बजे रोहतक पीजीआईएमएस में अपने दांतों के उपचार के लिए आ रहा था। जब वह रास्ते में बोहर आउटर बाईपास के नजदीक पहुंचा तो उसकी कार में पंचर हो गया। उसने गाड़ी साइड में लगाई अौर टायर बदल लिया। जब वह पंचर हुए टायर को कार की डिग्गी में रखने लगा तो इसी वक्त दो युवक आए। जिनमें से एक युवक ने उसे चाबी छीन ली। फिर दूसरे साथी को कहा रॉकी इस व्यक्ति को उस समय तक पकड़कर रख जब तक में गाड़ी स्टार्ट करता हूं। इसके बाद दोनों युवक उसके दो मोबाइल फोन व गाड़ी छीनकर फरार हो गए। उसने गाड़ी छीनने के बाद शोर मचाया तो राहगीरों ने आरोपियों का गाड़ी से पीछा किया, लेकिन वे पकड़ में नहीं आए। फिर उसने 100 नंबर पर फोन कर पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

आरटीए ने रुकवाई गाड़ी, पुलिस कंट्रोल रूम में दी लूट की झूठी सूचना

रोहतक |
बोहर गांव मे पुल के पास बुधवार की रात दो बजे एक युवक ने 100 नंबर पर पुलिस कंट्रोल रूम में इको गाड़ी लूटने की सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। जिले में नाकाबंदी कर गाड़ी की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस जांच के दौरान पता चला की गाड़ी को आरटीए ने पकड़ा है। अपने आप को बचाने के लिए चालक ने झूठी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम में दी थी। ये पता चलने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली। हालांकि इस मामले को लेकर थाना अर्बन स्टेट व सांपला पुलिस कुछ समय तक सीमा विवाद में उलझी रही। हालांकि बाद में कार चालक के खिलाफ पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।