--Advertisement--

‘जीवन में कभी संकल्प को भूलना नहीं चाहिए’

सफीदों | एआईसीसी के सदस्य एवं पूर्व मंत्री बचन सिंह आर्य ने कहा कि भगवान विष्णु को सत्य स्वरूप कहा गया है।...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:00 AM IST
‘जीवन में कभी संकल्प को भूलना नहीं चाहिए’
सफीदों | एआईसीसी के सदस्य एवं पूर्व मंत्री बचन सिंह आर्य ने कहा कि भगवान विष्णु को सत्य स्वरूप कहा गया है। सत्यनारायण कथा में पहला विषय संकल्प तो दूसरा विषय प्रसाद का है। इसका अर्थ है कि हमे जीवन में कभी किसी भी संकल्प को भूलना नहीं चाहिए और न ही प्रसाद की अवज्ञा करनी चाहिए।

सत्य की पालन नहीं करने से जीवन में अनेक प्रकार की परेशानियों को सामना करना पड़ता है, इसलिए जीवन में सत्य व्रत का पालन पूरी निष्ठा और सुदृढ़ता के साथ करना चाहिए। वे सोमवार को करसिंधु गांव में आयोजित एक कार्यक्रम मेंं बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि श्री सत्यनारायण कथा सत्य को अपने जीवन और आचरण में उतारने के लिए प्रेरित करती है। इस मौके पर रिषिलाल शर्मा, महेंद्र सिंह, बिल्लू सिंगला, रामजुवारी सैनी व पवन रोहिल्ला मौजूद रहे।

सफीदों. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बचन सिंह आर्य व अन्य।

X
‘जीवन में कभी संकल्प को भूलना नहीं चाहिए’
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..