• Hindi News
  • Haryana
  • Samalkha
  • स्कूल बसों में कैमरे, महिला हेल्पर व फर्स्टएड बॉक्स नहीं
--Advertisement--

स्कूल बसों में कैमरे, महिला हेल्पर व फर्स्टएड बॉक्स नहीं

स्कूल सुरक्षा वाहन पॉलिसी को लेकर खंड शिक्षा अधिकारी बृजमोहन गोयल ने टीम के साथ गुरुवार को स्कूल बसों की चेकिंग...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 03:40 AM IST
स्कूल बसों में कैमरे, महिला हेल्पर व फर्स्टएड बॉक्स नहीं
स्कूल सुरक्षा वाहन पॉलिसी को लेकर खंड शिक्षा अधिकारी बृजमोहन गोयल ने टीम के साथ गुरुवार को स्कूल बसों की चेकिंग की। टीम ने खंड के करीब आधा दर्जन से ज्यादा स्कूलों की बसों को चेक किया तो हर बस में खामियां मिली। बीईओ ने रिपोर्ट बनाकर एसडीएम को सौंप दिया है।

खंड शिक्षा अधिकारी बृजमोहन गोयल ने बताया कि गुरुवार को सुबह के समय शहर के पुराने बस अड्डे पर खड़े होकर यहां से गुजरने वाली करीब आठ स्कूलों की 22 बसों की चेकिंग की। इसमें चालक बिना वर्दी, बच्चों की संख्या अधिक, महिला हेल्पर न होना समेत अन्य खामियां मिली। उन्होंने बताया कि चेकिंग करने के बाद रिपोर्ट एसडीएम गौरव कुमार को सौंपने के साथ स्कूलों को एक सप्ताह के भीतर कमियों को पूरा करने के निर्देश दिए गए। वहीं बीईओ की टीम सदस्य देवेंद्र आर्य, सोनू वर्मा, सुनील कुमार ने खंड के सात स्कूलों में जाकर बसों की चेकिंग की। बसों में कैमरे, फर्स्टएड बॉक्स समेत अन्य सामान नहीं मिले। टीम ने जो कमियां मिली उसकी जानकारी बीईओ को दी।

बीईओ ने टीम के साथ 8 स्कूलों की 22 स्कूल बसों को किया चेक, मिली कई खामियां

समालखा. प्राइवेट स्कूल की बस को चेक करते हुए सोनू वर्मा, चालक मिला बिना सीट बेल्ट लगाए हुए। फोटो | भास्कर

सुरक्षित स्कूल कमेटी ने 7 स्कूलों में किया निरीक्षण

सनौली| पिछले सप्ताह ब्लॉक के स्कूलों में सेफ स्कूल वाहन पॉलिसी की जांच में ‎प्राइवेट स्कूलों की बसों में बीडीओ को काफी कमियां मिली थी। एसडीएम के आदेश पर ब्लॉक स्तरीय सुरक्षित स्कूल कमेटी ने गुरुवार को ब्लॉक के 7 स्कूलों का निरीक्षण किया। इस दौरान स्कूलों में कई कमियां मिलीं। ब्लॉक स्तरीय कमेटी ने सभी स्कूलों की कमियों की रिपोर्ट एसडीएम समालखा को सौंपी दी है। बीईओ रमेश कुमार ने बताया कि उन्होंने गुरुवार को सुरक्षित स्कूल ब्लॉक कमेटी सहित सात स्कूलों में चेकिंग की, सभी 7 प्र‎ाइवेट स्कूलों में काफी कमी पाई गई। बच्चों व अध्यापकों के पास आई कार्ड भी नहीं मिले।

X
स्कूल बसों में कैमरे, महिला हेल्पर व फर्स्टएड बॉक्स नहीं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..