Hindi News »Haryana »Sampla» चार साल बाद शुरू हुए स्ट्रीट वेंडर सर्वे अभियान में जरूरी दस्तावेज नहीं मिलने से आ रही रुकावट

चार साल बाद शुरू हुए स्ट्रीट वेंडर सर्वे अभियान में जरूरी दस्तावेज नहीं मिलने से आ रही रुकावट

चार साल बाद प्रदेश के 80 शहरों में स्ट्रीट वेंडर सर्वे शुरू भास्कर न्यूज | रोहतक शुरू होने के एक माह बाद भी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 05, 2018, 03:35 AM IST

चार साल बाद प्रदेश के 80 शहरों में स्ट्रीट वेंडर सर्वे शुरू

भास्कर न्यूज | रोहतक

शुरू होने के एक माह बाद भी स्ट्रीट वेंडर सर्वे की प्रगति निचले पायदान पर है। इससे नगर निगम ने जहां कंपनी के डायरेक्टर काे अब तक के ब्यौरे के लिए तलब किया है, वहीं सर्वे टीम की दलील है कि रेहड़ी संचालक व फुटपाथ के दुकानदार जरूरी कागजात देने में आनाकानी कर रहे हैं। इसका हवाला देते हुए नगर निगम से सहयोग की अपील की गई है। 4 साल बाद प्रदेश के 80 शहरों में स्ट्रीट वेंडर सर्वे शुरू कराया गया है। इसके लिए एक कंपनी को ठेका दिया गया है। रोहतक नगर निगम क्षेत्र में भी सर्वे चल रहा है। सर्वे टीम को बाजार व मोहल्ला वार वेंडरों की जानकारी उपलब्ध करवाई जा चुकी है। इसके बावजूद अभी तक सर्वे का संतोषजनक नहीं है, जबकि शीघ्रता के साथ सर्वे की रिपोर्ट चंडीगढ़ भेजनी थी। संबंधित एक अधिकारी ने बताया कि बार बार कहने के बावजूद जब सर्वे टीम ने अब तक टोटल फिगर की रिपोर्ट प्रस्तुत नहीं की तो उसके डायरेक्टर को तलब किया गया है ताकि सर्वे की वस्तुगत स्थिति की जानकारी मिल सके। अभी रोहतक के महम, कलानौर और सांपला कस्बे में भी स्ट्रीट वेंडर सर्वे किया जाना है। अभी तक यहां सर्वे का काम प्रारंभ भी नहीं हुआ है। ऐसे में काम को अंजाम तक पहुंचने में वक्त लगेगा।

रेहड़़ी व फुटपाथ के दुकानदार सर्वे टीम को वोटर आईडी, आधारकार्ड देने में कर रहे आना कानी

ये होंगे फायदे

स्ट्रीट वेंडिंग जोन बनने के बाद जहां रेहड़ी संचालकों व छोटे दुकानदारों को बिजनेस करने के लिए स्थाई जगह निर्धारित हो जाएगी, वहीं शहर की प्रमुख सड़कों, बाजारों व चौराहों व फुटपाथों से अतिक्रमण खत्म होगा। इसके साथ ही शहर में कारोबार करने वाला हर वेंडर रजिस्टर्ड होगा और फर्जी ढंग से रहने वालों की पहचान अासान हो जाएगी। छोटे दुकानदारों का अपना संगठन होगा और उनकी मांगों और सहूलियतों पर सरकार को विचार करना अनिवार्य होगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sampla News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: चार साल बाद शुरू हुए स्ट्रीट वेंडर सर्वे अभियान में जरूरी दस्तावेज नहीं मिलने से आ रही रुकावट
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sampla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×