• Home
  • Haryana News
  • Sampla
  • सरपंचों काे समर्थन देने पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा
--Advertisement--

सरपंचों काे समर्थन देने पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा

रोहतक. ताला लगाकर धरने पर बैठे सरंपचों से मिलते पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा। भाजपा पर निशाना साधा साथ...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:40 AM IST
रोहतक. ताला लगाकर धरने पर बैठे सरंपचों से मिलते पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा।

भाजपा पर निशाना साधा

साथ ही हुड्डा ने भाजपा सरकार को घोटालों की सरकार बताते हुए कहा कि सीएजी रिपोर्ट में सभी घोटालों का खुलासा हो चुका है। केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि हरियाणा में आने से पहले वे एसवाईएल मुद्दे पर स्थिति स्पष्ट करें। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज पर हमले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि बात रखने का अधिकार सभी को, लेकिन इस तरह से हमले के वे पक्षधर नहीं है।

विधायक शकुंतला खटक ने दिया समर्थन

कलानौर | ई पंचायत प्रणाली को लागू करने के विरोध में दूसरे दिन भी खंड कलानौर के सभी सरपंचों एवं ग्राम सचिव ने विरोध प्रकट किया। उन्होंने स्थानीय खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय के मुख्य द्वार पर ताला लगा कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इनेलो जिला अध्यक्ष सतीश नांदल ने सरपंचों को समर्थन दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार गांव के विकास के मामले में ई पंचायत प्रणाली को लागू कर लोगों को इस मुद्दे से भटका ना चाह रही है जिसके कारण गांव के विकास कार्य प्रभावित होंगे। रविवार को इनेलो नेता अभय चौटाला धरने को समर्थन देंगे। कलानौर हलके की विधायक शकुंतला खटक ने भी धरना स्थल पर पहुंचकर समर्थन दिया। इस मौके पर सरपंच एसोसिएशन के प्रधान विजेंद्र अहलावत, अशोक गुढाण, अमित कादयान, डॉ. नफे सिंह, संतलाल, महावीर नेहरा, अजय आदि सभी 24 गांव के सरपंच के सभी ग्राम सचिव मौजूद रहे।

सरपंचों के धरने को विधायक दांगी व इनेलो

अध्यक्ष नांदल ने दिया समर्थन

महम | मांगों को लेकर दूसरे दिन भी सरपंच बीडीपीओ कार्यालय के सामने धरने पर बैठे रहे। महम में इनेलो के जिला अध्यक्ष सतीश नांदल तथा लाखनमाजरा में कांग्रेस के विधायक आनंद सिंह दांगी धरना दे रहे सरपंचों के मध्य पहुंचे। उन्होंने कहा कि सरकार दमनकारी नीति अपना रही है। भाजपा शासन में हर वर्ग का व्यक्ति, कर्मचारी तंग है। विधायक दांगी व सतीश नांदल ने कहा कि सरकार को सरपंचों की मांगें मान लेनी चाहिए। उन्होंने कहा यदि आंदोलन आगे भी जारी रहा तो उनका समर्थन सरपंचों के साथ रहेगा। सतीश नांदल ने कहा कि रविवार को खुद इनेलो नेता अभय चौटाला लाखनमाजरा, रोहतक व सांपला में धरना दे रहे सरपंचों के मध्य पहुंचकर उनको समर्थन देंगे। धरना दे रहे सरपंचों ने कहा कि यदि सरकार उनकी मांग नहीं मानती तो वे सरकार का कोई भी काम नहीं करेंगे। तालाबंदी निरंतर जारी रहेगी।