Hindi News »Haryana »Sampla» सात स्टार पाने वाली ग्राम पंचायत बनेगी इंद्रधनुष: धनखड़

सात स्टार पाने वाली ग्राम पंचायत बनेगी इंद्रधनुष: धनखड़

कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा है कि अलग-अलग क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली ग्राम पंचायतों को अलग-अलग...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 12, 2018, 03:40 AM IST

कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा है कि अलग-अलग क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली ग्राम पंचायतों को अलग-अलग रंग के स्टार दिए जाएगे और जो पंचायत सात स्टार प्राप्त कर लेगी उसे इन्द्रधनुष का दर्जा दिया जाएगा। धनखड़ आज गांव बखेता में प्रवासी भारतीय डॉ. ओमप्रकाश धनखड़ व बलवान सिंह धनखड़ की ओर से स्थापित कम्प्यूटर सेंटर का उद्घाटन करने के बाद उपस्थित ग्रामीणों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि इन्द्रधनुष का दर्जा प्राप्त करने वाले गांव को सरकार अलग से दस लाख रुपए की ग्रांट देगी। धनखड़ ने जिन विषयों पर ग्राम पंचायतों को स्टार देने की बात कही है, उनमें बेटियों की संख्या या तो बेटों के बराबर हो या उनसे अधिक हो, 14 साल तक के सभी बच्चे स्कूल जाते हो, पराली न जलाना, पानी की बर्बादी न करना, घरेलू हिंसा न करना, गांव में आपसी मुकदमेबाजी न होना, ग्राम पंचायत द्वारा अच्छा कार्य करना व सामाजिक सहभागिता का होना आदि प्रमुख है।

उन्होंने कहा कि स्टार प्राप्त करने की दावेदारी के लिए 26 फरवरी तक पंचायत विभाग में दावेदारी की जा सकती है और सर्वे के बाद स्टार देने की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी।

भास्कर न्यूज | सांपला

कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा है कि अलग-अलग क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली ग्राम पंचायतों को अलग-अलग रंग के स्टार दिए जाएगे और जो पंचायत सात स्टार प्राप्त कर लेगी उसे इन्द्रधनुष का दर्जा दिया जाएगा। धनखड़ आज गांव बखेता में प्रवासी भारतीय डॉ. ओमप्रकाश धनखड़ व बलवान सिंह धनखड़ की ओर से स्थापित कम्प्यूटर सेंटर का उद्घाटन करने के बाद उपस्थित ग्रामीणों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि इन्द्रधनुष का दर्जा प्राप्त करने वाले गांव को सरकार अलग से दस लाख रुपए की ग्रांट देगी। धनखड़ ने जिन विषयों पर ग्राम पंचायतों को स्टार देने की बात कही है, उनमें बेटियों की संख्या या तो बेटों के बराबर हो या उनसे अधिक हो, 14 साल तक के सभी बच्चे स्कूल जाते हो, पराली न जलाना, पानी की बर्बादी न करना, घरेलू हिंसा न करना, गांव में आपसी मुकदमेबाजी न होना, ग्राम पंचायत द्वारा अच्छा कार्य करना व सामाजिक सहभागिता का होना आदि प्रमुख है।

उन्होंने कहा कि स्टार प्राप्त करने की दावेदारी के लिए 26 फरवरी तक पंचायत विभाग में दावेदारी की जा सकती है और सर्वे के बाद स्टार देने की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी।

स्टार की दावेदारी के लिए 26 फरवरी तक करें आवेदन, प्रदेश के सभी गांवों में लगेंगे गौरव पट, गांव बखेता ग्रामोदय योजना में शामिल

30 जून तक सभी गांवों में लग जाएंगे गौरव पट्ट

धनखड़ ने कहा कि 30 जून तक प्रदेश के सभी गांवों में गौरव पट लगाने का काम पूरा कर लिया जाएगा। भाजपा की सरकार ने न केवल पंचायतों को शिक्षित बनाया है बल्कि 20 लाख रुपए तक की राशि खर्च करने के अधिकार भी पंचायतों को प्रदान किए गए है। उन्होंने बखेता को दीनबंधु छोटूराम ग्रामोदय योजना में शामिल करने की घोषणा। हरियाणा के शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार की शिक्षक तबादला नीति को दूसरे राज्यों की सरकारों ने भी सराहा है।

सफाई कर्मचारी शिक्षा मंत्री से बोली, अब

तो पक्का करा दो

सांपला | भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की जींद रैली का न्यौता देने पहुंचे शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा को उस समय असहज महसूस करना पड़ा जब गांव बखेता के सरपंच कृष्ण धनखड़ ने गांव की प्राथमिक पाठशाला में पिछले पांच साल से फ्री में सफाई का काम करने वाली महिला को रेगुलर करने का पत्र दिया। पत्र को पढ़ने के बाद शिक्षा मंत्री ने कहा कि इसको रेगुलर कर दिया जाएगा।

कृषि मंत्री जी... मेरे बेटे की पेंशन करवा दो

गांव बखेता निवासी रामहेर (86) ने कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ को अपने पैरों की बीमारी दिखाते हुए पेंशन बनवाने की मांग की है। कहा है कि उसका बेटा चल नहीं पा रहा। खाना भी दूसरे आदमी के सहारे से खा रहा है। उसके पास 6 साल की एक बेटी है। पिछली बार भी आपने पेंशन बनवाने का वादा किया था। लेकिन कुछ नहीं हुआ। कृषि मंत्री ने समस्या का जल्दी ही हल करवाने का आश्वासन रामहेर को दिया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sampla News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: सात स्टार पाने वाली ग्राम पंचायत बनेगी इंद्रधनुष: धनखड़
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sampla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×