Hindi News »Haryana »Sampla» खरावड़ चौकी से 500 मीटर दूर युवक से बाइक छीनी

खरावड़ चौकी से 500 मीटर दूर युवक से बाइक छीनी

खरावड़ चौकी से आधा किलोमीटर से दूर अासौदा के नरेंद्र से पिस्तौल के बल पर दो युवक बाइक छीनकर फरार हो गए। दोनों बदमाश...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 06, 2018, 03:40 AM IST

खरावड़ चौकी से 500 मीटर दूर युवक से बाइक छीनी
खरावड़ चौकी से आधा किलोमीटर से दूर अासौदा के नरेंद्र से पिस्तौल के बल पर दो युवक बाइक छीनकर फरार हो गए। दोनों बदमाश बाइक पर सवार होकर वहां पहुंचे थे। नरेंद्र रोहतक से लौटते समय धूम्रपान करने के लिए वहां रुका था। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। झज्जर के आसौदा गांव का नरेंद्र बुधवार को रोहतक खोखरा कोट में किसी काम से आया हुआ था। वह काम खत्म करके वापस झज्जर जा रहा था। खरावड़ हनुमान मंदिर के पास रिंग रोड पुल के नीचे वह धूम्रपान करने के लिए रुका था। इसी बीच हनुमान मंदिर की ओर से आए दो बाइक सवार बदमाशों ने बंदूक के बल पर उससे बाइक छीन ली। बदमाशों में नरेंद्र का फोन भी घटना स्थल पर तोड़ दिया। नरेंद्र ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। पुलिस का कहना कि जल्द ही आरोपियोंे को पकड़ लिया जाएगा। आराेपियों को पकड़ने के लिए नाकेबंदी कर दी गई है। पुलिस सीटीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है।

परिवेदना समिति की बैठक | 15 में से 9 परिवादों का मौके पर निपटान, 3 फरियादी आए नहीं

लोकनिर्माण मंत्री से छात्राएं बोलीं-निजी बस वाले नहीं मानते पास, रास्ते में उतारकर करते हैं बेइज्जत

भास्कर न्यूज | झज्जर

झज्जर के संवाद भवन में गुरुवार को जिला लोक सम्पर्क एवं परिवेदना समिति की बैठक हुई। इसमें 15 में से 9 परिवादों का लोकनिर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह ने मौके पर ही निपटान किया। तीन फरियादी आए नहीं, बाकी में जांच की बात कही गई। इस दौरान काॅलेज स्टूडेंट ने जहां निजी बस संचालकों की मनमानी की शिकायत की तो वहीं, एक महिला ने तांत्रिक का मामला बताया। वहीं, खुद को सीएम का गुरु बताने वाले बुजुर्ग ने मनचलों के खिलाफ अपील की।

मंत्री राव नरबीर के समक्ष स्थानीय महाराजा अग्रसेन कॉलेज की छात्राओं ने बस संबंधी समस्या बताई। काॅलेज की छात्रा रेणु, रितु, ज्योति, कीर्ति व मनीषा ने मंत्री से कहा कि झज्जर में रोडवेज के अलावा ज्यादातर निजी बसें चलती हैं, लेकिन निजी बस आॅपरेटर सरकारी बस पास नहीं मानते। छात्रा ने कहा कि एक निजी बस आॅपरेटर ने उन्हें बीच रास्ते में उतारकर बेइज्जत किया। मंत्री ने छात्राओं की बात सुनकर बस का नंबर पूछा। एक छात्रा ने बताया कि उस बस पर गुलिया बस सर्विस लिखा था और उसका नंबर बताया। मंत्री ने एएसपी शशांक कुमार को कार्रवाई के लिए कहा।

सभी निजी बसों पर फ्री बस पास मान्य के लगवाए थे बैनर

कुछ दिनों पहले सभी निजी बसों पर फ्री बस पास मान्य के बैनर लगवाए थे, लेकिन अब फिर कई निजी बस वाले नियमों को नहीं मानते।

जब एडीसी बोले

सर मैं ही हूं आरटीए

जब काॅलेज की छात्राएं निजी बस आॅपरेटर की शिकायत कर रही थी तब मंत्री राव नरबीर सिंह ने रोडवेज जीएम लेखराज से पूछा कि निजी बस संचालक पास का नियम क्यों नहीं मानते। तब जीएम ने समर्थन किया कि काॅलेज की बच्चियां ठीक बोल रही हैं, लेकिन निजी बस आॅपरेटर पर कार्रवाई आरटीए की बनती है। यह सुनकर मंत्री बोले कि कहां है आरटीए, बुलाओ उन्हें। तब पास बैठे एडीसी सुशील सारवान ने कहा कि उनके पास ही आरटीए की जिम्मेदारी है। इसके बाद मंत्री ने कहा कि जिस निजी बस नंबर की शिकायत बेटियों ने की है, उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sampla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×