सांपला

--Advertisement--

कैंटर और कार की टक्कर में दो युवकों की मौत

सड़कों पर सुरक्षा मानकों में खामियों के कारण लगातार तीसरे दिन हादसे में जान चली गई। जहाजगढ़-छुछकवास मार्ग पर...

Dainik Bhaskar

Feb 10, 2018, 04:00 AM IST
कैंटर और कार की टक्कर में दो युवकों की मौत
सड़कों पर सुरक्षा मानकों में खामियों के कारण लगातार तीसरे दिन हादसे में जान चली गई। जहाजगढ़-छुछकवास मार्ग पर गुरुवार देररात बराणी मोड़ से निकलते ही ड्रेन नंबर 8 की तंग व टूटी हुई पुलिया पर कैंटर और कार की आमने-सामने की टक्कर हो गई। इसमें रोहतक के बलंबा निवासी दो चचेरे भाइयों की मौत हो गई। वहीं, तीन लोगों का पीजीआई में इलाज चल रहा है। पांचों स्विफ्ट डिजायर कार में अपने चचेरे भाई साेनू की शादी में छुछकवास आए थे। वापसी में यह हादसा हुआ। आरोपी कैंटर चालक वाहन छोड़कर फरार हो गया।

तीन बच्चों के सिर से उठा पिता का साया

रोहतक के बलंबा गांव के बिजेंद्र पुत्र नफे और चचेरा भाई कपिल पुत्र दलजीत तेल का टैंकर चलाते थे। दोनों लगभग 35 वर्ष के हैं। कपिल का एक लड़का और एक लड़की है, जबकि बिजेंद्र के एक लड़का है। इन बच्चों के सिर से पिता का साया छूट गया।

झज्जर. ड्रेन की तंग पुलिया के कारण कैंटर व कार में टक्कर के बाद क्षतिग्रस्त कैंटर। (दाएं) पुलिया की टूटी दीवार।

सड़कों में खामियों के चलते बढ़े हादसे, प्रशासन दावों तक सिमटा

सराय-नया गांव क्रॉसिंग के अंधे मोड़ पर बुधवार को टाटा मैजिक को कार ने टक्कर मार दी, जिसमें टीचर मुकेश की मौत हो गई। मांडौठी मोड़ पर रांग साइड ट्रक ने कार को टक्कर मार दी, जिसमें खेड़ी साध के पूर्व फौजी सरवर की मौत हो गई। डीसी बुधवार को अफसरों की बैठक में सड़कों की खामियां दूर करने के निर्देश दे चुकी हैं, लेकिन जमीनी स्तर पर काम शुरू नहीं हुआ है। सोनीपत के रोहट नहर की जर्जर पुलिया से 21 जनवरी को कार गिरने पर सांपला के चार युवकों की मौत हो गई थी। इसके बाद सीएम ने 5 फरवरी को यहां का दौरा कर पुलिया की इंजीनियरिंग सुधारने के निर्देश दिए थे।

बराणी मोड़ पर तीन वर्ष में 11 की जा चुकी है जान

29 मई 2015 : झज्जर-दादरी मार्ग पर बराणी गांव के मोड़ पर गाड़ी पेड़ से टकरा गई। इस हादसे में चार व्यक्तियों की माैके पर मौत हो गई।

17 अक्तूबर 2015 : झज्जर-दादरी रोड पर जहाजगढ़ नहर के पास सड़क दुर्घटना में तरुण हरित पुत्र राकेश की मौत।

26 जुलाई 2015 : रात को दो गाड़ियों की आमने-सामने की टक्कर हो गई। जिसमें ट्रक चालक की माैत हो गई।

22 अगस्त 2015 : छुछकवास से जहाजगढ़ रोड पर ड्रेन नम्बर 8 की पुलिया पर हादसे में कैंटर चालक की मौत हो गई।

8 जून 2016 : झज्जर-छुछकवास मार्ग पर ड्रेन के पास एक कैंटर की चपेट में आने से स्कूटर पर सवार ढाबा मालिक जहाजगढ़ निवासी राकेश व उसके साथी कर्मबीर की मौत हो गई।

27 जुुलाई 2017 : झज्जर-दादरी रोड पर गांव बराणी मोड़ पर सड़क हादसे में सुधीर की मौत हो गई।

28 मार्च 2016 : बराणी मोड़ के समीप साइकिल सवार धर्मबीर बराणी को कार ने अपनी चपेट में ले लिया।

X
कैंटर और कार की टक्कर में दो युवकों की मौत
Click to listen..