Hindi News »Haryana »Sampla» 55 स्कूल बसों की जांच में नहीं मिले अग्निशमन यंत्र व कैमरे

55 स्कूल बसों की जांच में नहीं मिले अग्निशमन यंत्र व कैमरे

सुरक्षित बस वाहन पॉलिसी के अंतर्गत आरटीए विभाग द्वारा चलाए जा रहे अभियान के अंतिम चरण में बुधवार को सांपला ब्लॉक...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 18, 2018, 04:10 AM IST

सुरक्षित बस वाहन पॉलिसी के अंतर्गत आरटीए विभाग द्वारा चलाए जा रहे अभियान के अंतिम चरण में बुधवार को सांपला ब्लॉक की अनाज मंडी में प्राइवेट स्कूलों की बसों की जांच की गई। विभाग ने 27 स्कूलों से 85 बसों को जांच कराने के लिए बुलाया था, लेकिन मौके पर 55 बसें ही पहुंचीं। अधिकांश बसों में अग्निशमन यंत्र नहीं मिले और सीसीटीवी कैमरे बंद थे। बसों में हेल्पलाइन नंबर लिखे नहीं मिले। मोटर व्हीकल इंस्पेक्टर सुरेन्द्र सिवाच व ट्रांसपोर्ट इंस्पेक्टर विनय कुमार ने बताया कि प्राइवेट स्कूलों की बसों की लंबी लाइन नई अनाज मंडी में लगी रही। जांच अभियान के दौरान प्रशासनिक अधिकारियों ने सभी बसों में चालकों के लाइसेंस, जीपीएस सिस्टम, सीसी कैमरे, सिक्योरिटी प्लेट व टेप सहित विभिन्न 21 बिन्दुओं की जांच की।

जांच में कई बसों में खामियां मिली हैं, जिसकी रिपोर्ट संबंधित विभाग को सौंपी जाएगी। स्कूल प्रबंधकों को नोटिस देकर दो सप्ताह में खामियां दूर कराने की मोहलत दी जाएगी। इसके बाद उच्च न्यायालय से आने वाली टीम स्कूली बसों में खामियां नए सिरे से जांचेगी। एमवीआई सुरेंद्र सिवाच ने बताया कि जांच में 9 चालकों के पास लाइसेंस नही मिले, 5 बसों में अग्निशमन यंत्र नहीं मिले। 5 बसों में हेल्पलाइन नंबर नहीं मिले। 15 बसों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट व 10 बसों में रिफ्लेक्टर टेप नहीं लगी मिली।

रोहतक. स्कूल बसों की जांच करते अधिकारी।

ब्लाॅक जांची गई बसों की संख्या

महम 125

लाखनमाजरा 125

कलानौर 71

रोहतक ए 225

रोहतक बी 120

सांपला 55

गैरहाजिर रहने वाले स्कूलों को

गुरुवार से जारी हाेंगे नोटिस

जिन स्कूलों की बसों में खामियां पाई गई हैं और जो स्कूल बस जांच करवाने नही पहुंची, उन स्कूलों को गुरुवार को नोटिस जारी किए जाएंगे। इसके बाद दोबारा करीब दो सप्ताह बाद सभी स्कूल बसों की जांच की जाएगी और खामी पाई जाने पर स्कूल बस पर जुर्माना या जब्त भी किया जाएगा।

पहले दिन 55 बसें जांच करवाने के लिए पहुंची थी। जांच के दौरान काफी बसें नियमों पर खरी नहीं उतरी हैं। बसों में खामियां दूर करने के लिए 15 दिन का समय दिया जाएगा। इसके लिए नोटिस जारी किए जाएंगे। - विनय कुमार, ट्रांसपोर्ट इंस्पेक्टर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sampla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×