Hindi News »Haryana »Sampla» सांपला में पहुंची सर्वेक्षण टीम ने खंगाला रिकाॅर्ड, सड़क पर घूमते मिले बेसहारा पशु

सांपला में पहुंची सर्वेक्षण टीम ने खंगाला रिकाॅर्ड, सड़क पर घूमते मिले बेसहारा पशु

स्वच्छ सर्वेक्षण वर्ष 2018 के तहत बुधवार को केंद्रीय जांच टीम सांपला पहुंच गई। टीम के सदस्य कमल सिंह सैनी ने दिनभर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 18, 2018, 04:10 AM IST

स्वच्छ सर्वेक्षण वर्ष 2018 के तहत बुधवार को केंद्रीय जांच टीम सांपला पहुंच गई। टीम के सदस्य कमल सिंह सैनी ने दिनभर पालिका कार्यालय की ओर से कराए गए कार्यो से संबंधित रिकाॅर्ड की जांच पड़ताल की। इस दौरान बेसहारा पशु सड़क पर घूमते हुए मिले, जिस पर प्रतियोगिता के नंबर कट सकते हैं। शुक्रवार को तीन सदस्यीय टीम कस्बे के हालात जानने के लिए बाजार मंडी व वार्डों में पहुंचेगी। साल भर की विकास योजनाओं व सुविधाओं पर कस्बा वासियों से फीडबैक लेगी। जन सुविधाओं बेहतर नहीं होने की स्थिति में आमजनों से फीडबैक निगेटिव में मिल सकता है।

सड़कों पर बेसहारा पशु, कट सकते हैं नंबर

नगरपालिका की ओर से तहसील के पीछे नंदीशाला तो बनाई गई है, लेकिन वहां पर पशुओं को रखने का ठीक ढंग से प्रबंध नहीं है। इसके चलते भारी तादात में बेसहारा पशु सड़कों पर घूम रहे हैं। वार्डों में कचरे के लिए डस्टबिन की भी कमी नजर आ रही है। नगर पालिका की ओर से डस्टबिन रखवाने का कोई प्रबंध नहीं किया गया। सड़कों पर जहां तहां कूड़ा फेंका मिलता है। सफाई कर्मचारी कूड़े हटाने में दिलचस्पी नहीं रखते हैं। कस्बे की सड़काें की सफाई नहीं होने से वाहनों की आवाजाही से उड़ने वाली धूल से दुकानदार परेशान हैं।

सांपला. कार्यालय में स्वच्छता संबंधित दस्तावेजों की जांच करते सर्वेक्षण अधिकारी।

सुविधाएं नहीं मिलने से विरोध में कस्बावासी

नगरपालिका क्षेत्रवासियों को सभी बुनियादी सुविधा देने का दावा कर रही है, जबकि बुधवार को ही कस्बे की महिलाओं व पुरुषों ने असुविधा को लेकर आक्रोश प्रकट किया और तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा, जिसमें नगर पालिका को भंग करने की मांग की गई। साथ ही उपस्थित लोगों ने बेसहारा पशु, गंदे पानी की निकासी न होने, सार्वजनिक स्थलों पर शौचालय के अभाव आदि समस्याओं की आेर प्रशासन का ध्यान आकृष्ट किया। साथ ही पंचायत बनाने की मांग की। इधर सर्वेक्षण टीम गुरुवार को यदि नगर पालिका के वार्डों में निरीक्षण के लिए पहुंची तो समस्याओं से जूझ रहे कस्बावासियों से उसे निगेटिव फीड बैक ही मिलेगा।

तीन दिन से सफाई अभियान में आई तेजी

नगर पालिका अधिकारियों ने पिछले तीन दिन से कस्बे में सफाई अभियान पर विशेष जोर दिया है। सभी वार्डो में कर्मचारी सफाई के लिए पहुंच रहे हैं। लोगों का कहना है कि अगर पालिका इस तरह से रूटीन में सफाई अभियान चलाए तो कस्बे को हरदम स्वच्छ रखा जा सकता है।

बेस्ट रैंकिंग की उम्मीद

स्वच्छ सर्वेक्षण वर्ष 2018 की बेहतर तैयारी की गई है। इस बार बेस्ट रैंकिंग मिलने की उम्मीद है। सर्वेक्षण में निर्धारित मानकों के अनुसार हर बिंदु पर नजर रखी जा रही है, ताकि यदि कोई प्वाइंट कमजोर रह जाए तो भी औसत स्कोरिंग की बदौलत मुकाम हासिल किया जा सके। राजेश वर्मा, सचिव नगर पालिका सांपला

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sampla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×