• Hindi News
  • Haryana
  • Sampla
  • तीसरी बार बदला ई दिशा केंद्र का नाम, अब सरल और अंत्योदय केंद्र के नाम से जाने जाएंगे
--Advertisement--

तीसरी बार बदला ई-दिशा केंद्र का नाम, अब सरल और अंत्योदय केंद्र के नाम से जाने जाएंगे

Dainik Bhaskar

Apr 04, 2018, 04:10 AM IST

Sampla News - रोहतक | कांग्रेस राज में सिंगल विंडो सिस्टम से शुरु हुए ई-दिशा केंद्र का नाम अब तीसरी बार बदला गया है। अब इसे सरल और...

तीसरी बार बदला ई-दिशा केंद्र का नाम, अब सरल और अंत्योदय केंद्र के नाम से जाने जाएंगे
रोहतक | कांग्रेस राज में सिंगल विंडो सिस्टम से शुरु हुए ई-दिशा केंद्र का नाम अब तीसरी बार बदला गया है। अब इसे सरल और अंत्योदय केंद्र के नाम से जाना जाएगा। मंगलवार को इसे लेकर फैसला लिया गया है। डीसी डॉ. यश गर्ग ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राकेश गुप्ता को बताया कि महम तहसील व उपमंडल रोहतक में सरल केंद्र शुरू कर दिया गया है। कलानौर तहसील में शीघ्र ही शुरू कर दिया जाएगा। रोहतक तहसील व सांपला तहसील में शीघ्र ही केंद्र संचालित कर दिए जाएंगे। इसी प्रकार अंत्योदय केंद्र भी जल्द ही संचालित किए जाएंगे। इसके लिए अलग से अंत्योदय भवन बनाया जाएगा। इसमें अंत्योदय सेवा केंद्र संचालित किया जाएगा। इस केंद्र पर सिंगल विंडो के तहत सभी प्रकार की योजनाओं की जानकारी और उनका लाभ प्रत्येक व्यक्ति को प्रदान किया जाएगा।

अंत्योदय केंद्र में सरकार की ओर से चलाई जा रही 364 विभिन्न प्रकार की योजनाओं को बताया जाएगा। वहीं सरल केंद्र में 303 तरह की आवश्यक सेवाएं नागरिकों को मुहैया करवाई जाती है। इनमें से जी-2 की 275 सेवाएं है, जो केंद्र के माध्यम से उपलब्ध करवाई जाएगी। व्यक्तिगत स्तर पर लाभ लेने के लिए लोगों के लिए 206 योजनाएं संचालित की जा रही है। केंद्र में सीधे रूप से सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, कल्याण व अन्य विभागों की योजनाएं शामिल है। इनका लाभ योजना में आवेदन करने पर मिलेगा। नियमित रूप से चैक लिस्ट तैयार करके उनकी मॉनिटरिंग की जाएगी। सरल सर्विस डिलिवरी के लिए भी जिला में आवश्यक औपचारिकताएं पूरी करके कार्य को अंतिम रूप दिया गया है।

रोल मॉडल के तौर पर घोषित होगा जिला

जिला के उपमंडल व तहसील स्तर पर सभी तरह की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देने व उनका लाभ सुनिश्चित करने के लिए इसी महीने सरल व अंत्योदय केंद्र संचालित किए जाएंगे। मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव ने जिला में इन सेवाओं के लिए बेहतर कार्य करने और शीघ्र लाभ सुनिश्चित करने के लिए सराहा भी है।

X
तीसरी बार बदला ई-दिशा केंद्र का नाम, अब सरल और अंत्योदय केंद्र के नाम से जाने जाएंगे
Astrology

Recommended

Click to listen..