• Hindi News
  • Haryana
  • Sampla
  • ट्रेनिंग में सरकारी स्कूलों की 500 बेटियों ने जैम, जैली, फ्लोटिंग कैंडल बनाना सीखा
--Advertisement--

ट्रेनिंग में सरकारी स्कूलों की 500 बेटियों ने जैम, जैली, फ्लोटिंग कैंडल बनाना सीखा

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2018, 04:25 AM IST

Sampla News - सरकारी स्कूलों में प्रवेशित छात्राएं पढ़ाई के साथ साथ रचनात्मक हुनर भी सीख सकें, इसके लिए आरएमएसए व एसएसए की ओर से...

ट्रेनिंग में सरकारी स्कूलों की 500 बेटियों ने जैम, जैली, फ्लोटिंग कैंडल बनाना सीखा
सरकारी स्कूलों में प्रवेशित छात्राएं पढ़ाई के साथ साथ रचनात्मक हुनर भी सीख सकें, इसके लिए आरएमएसए व एसएसए की ओर से पहल की गई है। शीतकालीन अवकाश के दौरान जिले के पांच ब्लॉक में एक एक स्कूल का चयन कर पांच सौ छात्राओं को जैम, जैली, सलाद मेकिंग, टेबल मैनर्स, ऑयल, फैब्रिक पेंटिंग, कैंडल मेकिंग, परफ्यूम, जैली, फ्लोटिंग कैंडल बनाने की ट्रेनिंग दी गई। सात दिन तक चले प्रशिक्षण कार्यक्रम में एक्सपर्ट द्वारा टिप्स दिए गए। एसएसए की आेर से सांपला, रोहतक, महम, लाखनमाजरा, कलानौर ब्लॉक में एक एक सरकारी स्कूल से कक्षा छह से आठवीं तक की सौ सौ छात्राओं काे चयनित किया गया। इन चयनित छात्राओं को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने प्राथमिक उपचार की ट्रेनिंग भी दी है।

ट्रेनिंग के अंतिम दिन कराई प्रतियोगिता

जिला परियोजना समन्वयक रामअवतार शर्मा ने बताया कि बताया कि ट्रेनिंग प्रोग्राम के अंतिम दिन पांचों ब्लॉक के चयनित स्कूलों में छात्राओं के बीच प्रतियोगिताएं कराईं गईं। प्रतियोगिता के दौरान छात्राओं ने एक से बढ़कर एक अचार, जैम, जैली, सलाद मेकिंग, फ्लोटिंग कैंडल बनाकर दिखाए। स्पर्धा के अनुसार छात्राओं को विजेता घोषित कर उन्हें पुरस्कृत किया गया है।

रोहतक. प्रशिक्षण शिविर में बनाया गया सामान।

X
ट्रेनिंग में सरकारी स्कूलों की 500 बेटियों ने जैम, जैली, फ्लोटिंग कैंडल बनाना सीखा
Astrology

Recommended

Click to listen..