--Advertisement--

मिड-डे मील वर्कर्स का सम्मेलन 25 फरवरी को

भाजपा सरकार की परियोजनाकर्मी विरोधी नितियों के खिलाफ मिड-डे मील वर्कर्स का जिला सम्मेलन 25 फरवरी को किया जाएगा। यह...

Dainik Bhaskar

Feb 11, 2018, 04:25 AM IST
भाजपा सरकार की परियोजनाकर्मी विरोधी नितियों के खिलाफ मिड-डे मील वर्कर्स का जिला सम्मेलन 25 फरवरी को किया जाएगा। यह निर्णय जिला कमेटी की बैठक में लिया गया। शनिवार को मानसरोवर पार्क में मिड-डे मील वर्कर्स की बैठक हुई। इसकी अध्यक्षता रीना ने की। इसमें सांपला और कलानौर ब्लॉक स्तर पर होने वाले सम्मेलन की तिथि तय की गई। सांपला ब्लॉक में 11 फरवरी को छोटूराम धर्मशाला में सम्मेलन होगा। इसके बाद 18 फरवरी को कलानौर ब्लॉक का सम्मेलन इंद्रा पार्क में होगा। बैठक में सीटू के जिला सचिव कामरेड प्रकाश चन्द्र ने कहा कि केन्द्र सरकार के तय बजट में परियोजनाकर्मियों को नजरअंदाज किया है। मिड-डे-मील वर्कर्स के मानदेय में सातवें वेतन कमीशन 2013 के बाद कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। अगर मार्च-अप्रैल तक वेतन में बढ़ोतरी नहीं की गई तो मई में उग्र आंदोलन होगा। इस अवसर पर सीटू की सहसचिव कमलेश, रीना, पूजा, निर्मला, कांता, शीला, गीता, राजबाला, लक्ष्मी, कमलेश, सुषमा, रेखा, मंजू मौजूद रहीं।

समस्याएं बताईं

हरियाणा मिनिस्ट्रियल स्टाफ एसोसिएशन की जिला स्तरीय बैठक शनिवार को हुई। इसकी अध्यक्षता जयकिशन लौरा ने की। स्वास्थ्य कर्मचारियों ने अपनी समस्याओं के बारे में बताया। लौरा ने कहा कि अगर सिविल सर्जन अधिकारी ने समस्या का समाधान नहीं किया तो वे विभाग के महानिदेशक से पंचकूला में मुलाकात करेंगे। यहां भी सुनवाई नहीं हुई तो स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से मिलेंगे। मांगें माने जाने तक सिविल सर्जन कार्यालय में विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा। इस अवसर पर राज्य महासचिव ओमपाल सिंह, राकेश, राजेश, विकास गिल, पवन, सुरेंद्र, कृष्ण लाल अादि मौजूद थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..