Hindi News »Haryana »Sampla» पांच साल से ट्रांसफार्मर में नहीं डाला ऑयल, 1 साल में 3 हजार हुए खराब

पांच साल से ट्रांसफार्मर में नहीं डाला ऑयल, 1 साल में 3 हजार हुए खराब

उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के रोहतक सर्कल में गत वर्ष में करीब 3 हजार ट्रांसफार्मर खराब हो चुके हैं। शहरी व...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 15, 2018, 04:30 AM IST

उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के रोहतक सर्कल में गत वर्ष में करीब 3 हजार ट्रांसफार्मर खराब हो चुके हैं। शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में लगे छोटे बड़े ट्रांसफार्मर में पांच साल से ऑयल नहीं डाला गया है। इस वजह से ट्रांसफार्मर के खराब होने की संख्या और बढ़ने की संभावना गहरा गई है। इन ट्रांसफार्मरों में आई खराबी के लिए निजी तौर पर जेई को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। जो कि गलत है। यह नाराजगी बुधवार को हुई बिजली निगम के रेस्ट हाउस में एचएसईबी डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसिएशन की मीटिंग में जेई ने जताई। जेई प्रवीन कुमार व इंजीनियर सुनील कुमार ने बताया कि गत वर्ष 6.3 व 10 केवीए के सर्वाधिक ट्रांसफार्मर जले थे। इन ट्रांसफार्मर को लगे 15 साल से ऊपर हो गए। लेकिन आज तक इनमें तेल नहीं बदला गया। जब ये खराब हो रहे हैं तो निजी तौर पर जेई को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। जबकि निर्देशों का पालन करते हुए एक सप्ताह में ही खराब ट्रांसफार्मर को जींद रोड स्थित स्टोर में पहुंचाया जा रहा है। आगामी गर्मी में लोड और बढ़ेगा, जिससे शहरी क्षेत्रों में लगे ट्रांसफार्मर में खराबी आने की संभावना है, क्योंकि इनमें भी लंबे समय से ऑयल नहीं डाला गया है। ऐसे में जब खराबी आएगी तो भी जेई को जिम्मेदार को ठहराया जाएगा। मीटिंग में सहमति बनी कि यदि जल्द ही स्टोर के अधिकारियों ने जेई के प्रति नकारात्मक रवैया अपनाना नहीं छोड़ा तो एक बार फिर व्यापक स्तर पर आंदोलन चलाया जाएगा। मीटिंग में सतेंदर हुड्डा, अभिमन्यु, रामप्रसाद, विकास यादव, जगवीर शर्मा, विकास कुमार, रमेश कुमार, सूर्यावीर, कुलदीप जांगड़ा, ओमप्रकाश, अनुज यादव, धीरज कौशिक, राकेश, रमेश बलहारा, जयवीर, पवन कुमार, संदीप कुमार मौजूद रहे।

उन्होंने सेंट्रल स्टोर के एक्सईएन एके यादव पर आरोप लगाते हुए कहा कि समय पर ट्रांसफार्मर को बदला नहीं जा रहा है। इसका ताजा उदाहरण स्टाेर के बाहर सड़क किनारे पड़े खराब ट्रांसफार्मर हैं। उन्हें तीन बार लिखित में ज्ञापन दिया जा चुका है, लेकिन स्टोर अधिकारी व कर्मचारियों के नकारात्मक रवैये के कारण दूर दूर के सब डिवीजन सांपला, कलानौर, महम, बहु झोलरी, जसिया, भालौठ में खराब हुए ट्रांसफार्मर को एक सप्ताह के अंदर स्टोर में पहुंचाने के बाद भी सड़क किनारे छोड़ दिया। जेई को नए ट्रांसफार्मर देने से मना किया जा रहा है।

रोहतक. सुखपुरा चौक के पास बिजली घर के बाहर पड़े ट्रांसफार्मर।

कागजी दस्तावेज पूरे न होने तक स्टोर में नहीं लेते ट्रांसफार्मर

सेंट्रल स्टोर के एक्सईएन एके यादव ने बताया कि खराब ट्रांसफार्मर फील्ड में रहने वाले जेई लेकर आते हैं। अधिकांश तौर पर कागज पूरे नहीं होते हैं, इसकी वजह से हम ऐसे लाए हुए ट्रांसफार्मर को स्टोर में नहीं रखवाते हैं। ट्रांसफार्मर की दो परिस्थितियों में लिए जाते हैं एक तो वे वारंटी पीरियड में हों या फिर उनकी वारंटी खत्म हो चुकी हो। एक सप्ताह में मिलने वाले खराब ट्रांसफार्मर को फौरन बदल रहे हैं। स्टोर प्रबंधन की पूरी तरह से निर्देशों का पालन किया जा रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sampla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×