Hindi News »Haryana »Sampla» बीजेपी की जींद रैली : मात्र 424 मीटर ही बाइक पर चलेंगे शाह, चार आईपीएस संभालेंगे सुरक्षा व्यवस्था, रैली स्थल के पास बनाए दो हेलीपैड

बीजेपी की जींद रैली : मात्र 424 मीटर ही बाइक पर चलेंगे शाह, चार आईपीएस संभालेंगे सुरक्षा व्यवस्था, रैली स्थल के पास बनाए दो हेलीपैड

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 15 फरवरी की बाइक रैली में महज 424 मीटर की दूरी ही बाइक से तय करेंगे। रैली स्थल से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 13, 2018, 04:45 AM IST

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 15 फरवरी की बाइक रैली में महज 424 मीटर की दूरी ही बाइक से तय करेंगे। रैली स्थल से मात्र 8 एकड़ दूर खेतों में दो हेलीपैड बनाए गए हैं। वे हेलिकॉप्टर से आएंगे और उसके बाद हेलीपैड से बाइक पर सवार होंगे। इसके लिए हेलीपैड से लेकर सड़क तक के तीन एकड़ कच्चे रास्ते को दुरुस्त किया जा रहा। रैली के दिन पांडु-पिंडारा से निर्जन तक का करीब 3 किलोमीटर का सड़क मार्ग पूरी तरह से बंद रहेगा। इस दिन इस मार्ग पर सिर्फ वीआईपी का ही आवागमन होगा। बाइक से आने वाले कार्यकर्ताओं की इंट्री सिर्फ कच्चे बाईपास की साइड से ही होगी। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सोमवार को डीजीपी बीएस संधू व एडीजीपी सीआईडी अनिल राव ने रैली स्थल का जायजा लिया।

बाइक रैली में सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए डीआईजी राकेश आर्य के नेतृत्व में तीन आईपीएस अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। इनमें आईपीएस वसीम अकरम मंच और इसके आसपास में वीआईपी की सुरक्षा व्यवस्था संभालेंगे। आईपीएस राजेंद्र कुमार मीणा पंडाल में और आईपीएस हामिद अकरम के नेतृत्व में हजारों पुलिस कर्मी व पैरा मिलिट्री जवान सुरक्षा व्यवस्था संभालेंगे। इसके अलावा 4 आईपीएस भी इस दौरान रैली स्थल पर व शहर में रहेंगे। सोमवार को ही काफी संख्या में पुलिस व पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों की रैली स्थल पर तैनाती भी कर दी गई।

जींद में अब तक पैरामिलिट्री फोर्स की 30 कंपनी पहुंचीं

बीजेपी की बाइक रैली को लेकर सोमवार तक जींद में पैरामिलिट्री फोर्स की 30 कंपनियां पहुंच चुकी हैं। इसके अलावा दूसरे जिलों से काफी संख्या में पुलिसकर्मी जींद पहुंचे हैं। पैरामिलिट्री फोर्स की जो कंपनिया पहुंची उनमें से कई कंपनियों ने रैली स्थल से कुछ दूरी पर पांडु-पिंडारा तीर्थ स्थल पर मंदिरों, धर्मशालाओं में डेरा डाला है।

20 एलईडी से रैली को लाइव देख सकेंगे कार्यकर्ता

शाह की बाइक रैली में आने वाले सभी कार्यकर्ताओं को लाइव प्रसारण देखने के लिए कोई असुविधा न हो, इसके लिए 300 बाई 1250 फीट के पंडाल में करीब 20 एलईडी लगेंगी। जो 8 बाई 20 फीट साइज की होंगी। दिल्ली की कंपनी द्वारा इसको लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। इतना ही नहीं रैली में पीएम मोदी के स्वच्छ भारत मिशन अभियान की पालना दिखाई देगी। इसके लिए स्थल के पास 850 टॉयलेट बनाए जाएंगे। रैली में पूरी तरह से व्यवस्था बनाए रखने के लिए अनुशासन पर जोर रहेगा। इसके लिए पहले से ही पंडाल को 40 सेक्शनों में बांटा जा रहा है। अगली पंक्ति में कौन बैठेगा और बीच व आखिरी में कौन-कौन होंगे, इसके लिए बाकायदा साइन बोर्ड चस्पाए जाएंगे। रैली में आने वाले कार्यकर्ताओं की भीड़ के लिए 160 पॉइंटों पर पेयजल की सुविधा होगी।

रैली में की जा रही व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए डीजीपी बीएस संधू ने पुलिस अधिकारियों से कहा कि काफी धीमा काम चल रहा है। इसमें तेजी लाए। डीजीपी ने इस दौरान रैली में कहां किसके बैठने की व्यवस्था होगी, कहां से रैली में कौन आएगा इन सबका जायजा लिया।

जाट आरक्षण मामले में बीरेंद्र सिंह बोले: मैं तो ऐसा पंडत हूं जो क्रिया कलाप पूरे कराता हूं, आरक्षण की जिम्मेदारी नहीं लेता

लाखन माजरा, महम, सांपला, कलानौर में भेजी 4 कंपनियां

रोहतक |
शाह की जींद रैली को लेकर प्रशासन ने पूरे जिले में सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद कर दी है। केंद्र से भेजी गई 9 पैरामिलिट्री की कंपनियां रोहतक पहुंच गई थी। सोमवार को इन्हें जिले में विभिन्न स्थानों के लिए रवाना कर दिया गया। अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति इस रैली के विरोध में अपना प्रदर्शन पहले ही वापिस लेने की घोषणा कर चुकी है। प्रशासन ने एहतियातन जींद रैली और जाट बलिदान दिवस के बाद ही कंपनियों को वापिस भेजने का प्लान बनाया है।

कैथल | सांसद राजकुमार सैनी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने डंडे के डर से जाट संघर्ष आरक्षण संघर्ष समिति के साथ समझौता किया है। हर बार डर के चलते सरकार झुक रही है। कानून गरीब व्यक्ति के लिए है। जिन लोगों ने सरेआम प्रदेश को जला दिया था अब सरकार ने उनके आगे झुक कर लोकतंत्र को कठपुतली बना दिया है।

सांसद राजकुमार सैनी पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हत्या, आगजनी व लूट के आरोपियों को इस तरह की सुविधा मिलेंगी तो आगे अपराध करने से कौन डरेगा। सैनी ने कहा कि सत्ता पक्ष का राष्ट्रीय अध्यक्ष अपनी रैली करने के लिए समझौता करता है फिर लोकतंत्र कहां रहा। उन्होंने कहा कि जिस जाति की जितनी आबादी है, इसी हिसाब से आरक्षण िमले। हर जाति को आरक्षण मिलने के बाद सारा फसाद खत्म हो जाएगा। जींद रैली में जाने बारे पूछे गए सवाल के बारे में सैनी ने कहा कि मेरे पास कोई निमंत्रण नहीं है। इसलिए मैं रैली में नहीं जाऊंगा। सैनी ने कहा कि जल्द ही अपनी पार्टी का गठन करेंगे। पार्टी प्रदेश में लोकसभा की दस व विधान सभा की 90 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। लोगों ने मौका दिया तो हर जाति को पूरा मान-सम्मान मिलेगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sampla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×