• Home
  • Haryana News
  • Sampla
  • इनाम दोगुना करने पर भी हरकेश-कृष्ण में से कोई नहीं हुआ चित, फैसला न होने पर कमेटी ने टाइम भी बढ़ाया थ
--Advertisement--

इनाम दोगुना करने पर भी हरकेश-कृष्ण में से कोई नहीं हुआ चित, फैसला न होने पर कमेटी ने टाइम भी बढ़ाया था

पाकस्मा गांव में मंगलवार को बाबा मांगे नाथ की याद में कुश्ती दंगल का आयोजन किया गया। जिसमें 71 हजार रुपए की पहली...

Danik Bhaskar | Jan 17, 2018, 04:45 AM IST
पाकस्मा गांव में मंगलवार को बाबा मांगे नाथ की याद में कुश्ती दंगल का आयोजन किया गया। जिसमें 71 हजार रुपए की पहली कुश्ती कृष्ण व हरकेश के बीच हुई। दोनों पहलवानों में करीब 15 मिनट तक जोर आजमाइश चली। लेकिन दोनों बराबरी पर रहे। दूसरी कुश्ती सुनील छारा व प्रवेश लडरावण के बीच हुई। यह कुश्ती भी 12 मिनट चली, लेकिन कोई फैसला नहीं हो पाया। पहली कुश्ती को लेकर लोगों की मांग पर कमेटी ने पहलवान को 71 से बढ़ाकर एक लाख 35 हजार रुपए देने की घोषणा की। प्रतियोगिता आठ की जगह 15 मिनट तक बढ़ाई गई, लेकिन दोनों पहलवानों में से कोई भी पहलवान दंगल अपने नाम नहीं कर पाया। कमेटी ने दोनों पहलवानों में ईनाम बराबर बांट दिया।

पाकस्मा गांव में बाबा मांगे नाथ की याद में हुए खेलों में पहले इनाम की कुश्ती में बनी रोचक स्थिति

सांपला. पाकस्मा गांव में कुश्ती मुकाबले के दौरान दांव लगाते पहलवान।

सुनील छारा और प्रवेश की कुश्ती भी बराबरी पर छूटी

बराबर पर रही दूसरी कुश्ती के पहलवानों को 15-15 हजार रुपए दिए । दंगल के मुख्यअतिथि प्रवीन कुमार व मलिक चौगामा प्रधान सोनू मलिक नगरपालिका चेयरमैन सुधीर ओहल्याणा व राजेश बलियाणा ने अलग-अलग कुश्ती पहलवानों के हाथ मिलवाए। वहीं विजेताओं को इनाम बांटे। उन्होंने बताया कि 11 हजार सहित सैकड़ों कुश्ती कराई गई। दंगल में सहयोग के लिए मलिक चौगामा खाप के प्रधान सोनू मलिक गांधरा महेंद्र पहलवान, जसबीर सिंह, मंजीत कुमार हरेंद्र कुमार, प्रदीप कुमार, मंजीत कुमार सहित कई गांवों से लोग पहुंचे।