सांपला

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Sampla
  • नौनंद के स्वास्थ्य केंद्र पर नहीं मिले कर्मचारी टीकाकरण के लिए महिलाएं होती रहीं परेशान
--Advertisement--

नौनंद के स्वास्थ्य केंद्र पर नहीं मिले कर्मचारी टीकाकरण के लिए महिलाएं होती रहीं परेशान

करीबछह हजार की आबादी वाले गांव नौनंद में लोग स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर समस्याएं झेल रहे हैं। गांव में विभाग ने उप...

Dainik Bhaskar

Jan 11, 2018, 09:05 AM IST
करीबछह हजार की आबादी वाले गांव नौनंद में लोग स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर समस्याएं झेल रहे हैं। गांव में विभाग ने उप स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण कर रखा है। लेकिन केंद्र में स्टाफ कर्मचारी संख्या पूरी नहीं है। नौनंद का ये स्वास्थ्य केंद्र पीएचसी खरावड़ के अंतर्गत आता है। यहां स्टाफ नहीं होने से लोगों को समय पर बेहतर उपचार नहीं मिल पा रहा है। बुधवार गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिए दिन निर्धारित है। ऐसे में बुधवार सुबह गांव की कई महिलाएं स्वास्थ्य केंद्र पर टीकाकरण के लिए पहुंची। लेकिन स्टाफ होने की वजह से उन्हें ये स्वास्थ्य सेवा नहीं मिल पाई। इसके बाद महिलाओं ने काफी देर हंगामा करते हुए नारेबाजी की। बाद में गांव के ही कुछ लोगों ने महिलाओं को समझाकर उन्हें घर भेजा। उपस्वास्थ्य केंद्र पर तैनात एमपीएचडब्लू शमशेर सिहं का कहना है कि बुधवार को उसेे किसी सरकारी काम के कारण विभाग के रोहतक स्थित ऑफिस में जाना पड़ा था।

रिपोर्ट भेज दी

^केंद्रकी इमारत के जर्जर होने के बारे में एक रिपोर्ट बनाकर उच्च अधिकारियों को भेज दी है। इस बारे में उनके निर्देश मिलने पर सारी समस्याओं का समाधान कर दिया जाएगा। बुधवार को स्वास्थ्य केंद्र पर महिलाओं को हुई दिक्कत के मामले में जांच कराई जाएगी। -डॉ. अभिविंद, इंचार्ज, पीएचसी खरावड़

कंडम घोषित इमारत में चल रहा केंद्र

नाैनंदगांव में उप स्वास्थ्य केंद्र जिस इमारत में चल रहा है वो खस्ताहाल हो चुकी है। इसे विभाग की ओर से कंडम भी घोषित किया जा चुका है। लेकिन गांव में स्वास्थ्य केंद्र के लिए कोई ओर भवन उपलब्ध नहीं होने पर विभाग इसी भवन में केंद्र चला रहा है। हालात ऐसे हैं कि जिस कक्ष में गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण की व्यवस्था है उसकी छत से कई बार प्लास्टर टूट कर नीचे गिर चुका है। जर्जर हालत में पहुंच चुकी छत के प्लास्टर गिरना का हमेशा अंदेशा बना रहता है। कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। अस्पताल स्टाफ का इस बारे में कहना है कि वो कई बार विभाग के बड़े अधिकारियों को इस बारे में लिखित में समस्या बता चुके हैं। लेकिन अभी तक कोई व्यवस्था नहीं बन पाई है।

तीन कर्मचारियों के भरोसे नौनंद में स्वास्थ्य सेवाएं

गांवके उप स्वास्थ्य केंद्र में दो एएनए्म और एक एमपीएचडब्लू कर्मचारी का पद है। डॉक्टर का पद इस स्वास्थ्य केंद्र के लिए मंजूर नहीं है। एक एएनए्म बुधवार को छुट्टी पर रही जबकि एक कर्मी का कुछ दिन पहले ही इस केंद्र से तबादला हो चुका है। दूसरी और व्यवस्था संभालने के लिए जिम्मेदार एमपीएचडब्लू कर्मी भी केंद्र पर मौजूद नहीं था। इस बारे में उसका कहना था कि उसे विभाग के किसी काम से रोहतक जाना पड़ा।

X
Click to listen..