Hindi News »Haryana »Sampla» 3 साल में सीएम ने की 171 घोषणाएं, पूरी हो पाई सिर्फ 53, अधिकारियों ने सीएम के गांवों में ही दिखाई तेजी

3 साल में सीएम ने की 171 घोषणाएं, पूरी हो पाई सिर्फ 53, अधिकारियों ने सीएम के गांवों में ही दिखाई तेजी

भाजपासरकार के तीन साल पूरे हो चुके हैं और सीएम मनोहर लाल ने भी विकास परियोजनाओं को लेकर धुआंधार घोषणाएं भी की,...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 11, 2018, 10:00 AM IST

भाजपासरकार के तीन साल पूरे हो चुके हैं और सीएम मनोहर लाल ने भी विकास परियोजनाओं को लेकर धुआंधार घोषणाएं भी की, लेकिन अब पूरी करने में अधिकारियों के भी पसीने छूट रहे हैं। तीन साल में सीएम मनोहर लाल की ओर से घोषित की गई 171 घोषणाओं में से सिर्फ 53 को ही पूरा किया जा सका है। अभी 71 योजनाओं पर काम चल रहा है, जिन्हें इस साल के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा।

आखिर में डीसी को भी सख्त लहजे में अधिकारियों को कहना पड़ा कि अधिकारी इन योजनाओं को पूरा करने के लिए कोई कोताही लापरवाही बरतें और प्राथमिकता के आधार पर इन परियोजनाओं पर काम पूरा करें। अधिकारी इन योजनाओं पर तेज गति से कार्य करें, ताकि जनता को इनका जल्द से जल्द लाभ मिल सकें।

सिर्फबनियानी निंदाना को ही प्राथमिकता

सीएमघोषणाओं पर सुस्ती दिखाने वाले अधिकारियों ने सीएम के गांव में तेजी से काम निपटाए हैं। बनियानी गांव में वाटर सप्लाई योजना 174 लाख रुपए की लागत से पूरी की जा चुकी है। निंदाना में भी 370.25 लाख रुपए की पेयजल योजना और गांव मदीना में पेयजल पाइप लाइन बदलने का कार्य 96.36 लाख रुपए की लागत से पूरा कर लिया गया है।

स्कूल भवन और डिस्पेंसरी तक के प्रोजेक्ट अटके

दूसरेगांवों से भेदभाव का आलम यह है कि यहां पर जरुरी घोषणाओं को भी पूरा करने में अधिकारियों ने तेजी नहीं दिखाई है। मोखरा में बने हुए पुराने स्कूल के स्थान पर नया स्कूल भवन बनाने और चुलियाना में भी नए स्कूल भवन का बनाने परिसर पक्का करने का कार्य की स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है। मुख्यमंत्री की घोषणा अनुसार मोखरा में आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी खोलने का कार्य भी जल्द ही किया जाएगा।

पंचायती राज के कामों की अलग से होगी समीक्षा

^मुख्यमंत्रीकी ओर से जिले में की गई विकास परियोजनाओं जन कल्याणकारी घोषणाओं की समीक्षा की। अब पंचायती राज से संबंधित कार्यों की समीक्षा के लिए अलग से बैठक आयोजित की जाएगी। अब तक 171 विकास परियोजनाएं मुख्यमंत्री द्वारा घोषित की गई है। इनमें से 53 योजनाएं पूरी की जा चुकी है। -डॉ. यश गर्ग, डीसी रोहतक।

नेशनल हाईवे पर नहीं

बन पाए अंडरपास

इसकेअलावा नेशनल हाइवे के किनारे बसे गांवों के लोगों को आज भी सड़क पार करने के लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ती है। आए दिन यहां पर हादसे भी होते रहते हैं। ऐसे में सीएम ने पांच गांवों में अंडरपास की घोषणा की थी, लेकिन यह अटकी हुई है। इस पर अधिकारियों का कहना है कि डोभ, माड़ौदी, बेरी, सांपला क्रॉसिंग सहित 5 स्थानों पर नेशनल हाइवे की ओर से अंडरपास बनाने की प्रक्रिया भी शीघ्र ही शुरू की जाएगी। महम स्थित चौबीसी के चबूतरे को विकसित करने के लिए विभाग की ओर से एस्टीमेट तैयार कर दिए गए है। जल्द ही इस कार्य के टेंडर लगाए जाएंगे।

क्वार्टर बने, बिजली लाइन हटी

पीजीआईमें तृतीय चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के लिए 27 करोड़ रुपए की लागत से मकान बनाने की प्रक्रिया भी शीघ्र ही शुरू की जाएगी। शहर की शिव कॉलोनी, लाल बहादुर कॉलोनी में मकानों के ऊपर से गुजर रही बिजली की एचटी लाइन को बदलने का कार्य भी जल्द ही किया जाएगा। यहां पर अभी भी लोग दहशत में जीवन बिताने को मजबूर हैं।

शहर से बाहर नहीं हो पाईं डेयरियां

शहरके बीचों-बीच बनी डेयरियों को वर्षों से शहर से बाहर करने की योजना चल रही है, सीएम की घोषणा के बाद भी यह काम अटका हुआ है। हाल ये है कि यहां रहने वाले लोगों के सीवर बंद रहते हैं और सड़कों पर ही सीवरेज का पानी बहता रहता है। अब डेयरियों को शिफ्ट करने के लिए स्थान का चयन करके निगम की ओर से बजट की मांग की गई है।

अभी भी सिर्फ काम

पूरा करने का दावा

गांवधामड़ में 14 लाख रुपए, इस्माइला में 20 लाख रुपए की लागत से पाइप लाइन बिछाने का कार्य किया जा रहा है। इसे जल्द ही पूरा करने के वादे किए जा रहे हैं। इसी प्रकार गांव आसन, खिड़वाली, किलोई खास, हसनगढ़, हमायुंपुर, भालौठ, समचाना, गान्धरा, जसिया और मोखरा में भी पेयजल योजनाओं मेंं सुधार करने के लिए कार्य किए जाने का दावा ही किया जा रहा है। अभी तक ये घोषणाएं अधूरी ही पड़ी हैं।

रोहतक. लघुसचिवालय में अधिकारियों की बैठक लेते डीसी यश गर्ग।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sampla News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 3 saal mein CM ne ki 171 ghosnaaen, puri ho paaee sirf 53, adhikariyon ne CM ke gaaanvon mein hi dikhaaee teji
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sampla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×