• Hindi News
  • Haryana
  • Sampla
  • टोल बचाने को महिला ने जज, वकील तो कभी खुद को आर्मी अफसर बताया
--Advertisement--

टोल बचाने को महिला ने जज, वकील तो कभी खुद को आर्मी अफसर बताया

Dainik Bhaskar

May 07, 2018, 03:35 AM IST

Sampla News - रोहद टोल पर रविवार दोपहर लगभग 12:40 मिनट पर टोल बचाने को लेकर एक अधेड़ महिला ने करीब 17 मिनट तक हाइवोल्टेज ड्रामा किया।...

टोल बचाने को महिला ने जज, वकील तो कभी खुद को आर्मी अफसर बताया
रोहद टोल पर रविवार दोपहर लगभग 12:40 मिनट पर टोल बचाने को लेकर एक अधेड़ महिला ने करीब 17 मिनट तक हाइवोल्टेज ड्रामा किया। दिल्ली की ओर से आ रही महिला और टोल कर्मियों के बीच काफी समय बहस हुई। कार में महिला के साथ 2 अन्य पुरुष भी बैठे थे। महिला ने टोल बचाने को लेकर कभी खुद को जज, कभी वकील तो कभी आर्मी अधिकारी बताया। टोल कर्मियों ने महिला को टीडी लेटर या आर्मी की ओर से जारी मूमेंट लेटर दिखाने को कहा। महिला ने लेटर दिखाने से मना कर दिया। इस बीच सुपरवाइजर मंजीत मौके पर पहुंचा और कहा कि सैन्य कर्मी को ड्यूटी पर या सरकारी वाहन में होने पर छूट देने की बात कही। महिला की पर्ची काटी गई।

पुलिस कर्मी से भी महिला ने किया अभद्र व्यवहार

टोल ऑफिस में महिला ने पुलिस कर्मी नरेश के साथ भी असभ्य व्यवहार किया। जब महिला टोल ऑफिस पहुंची तो पुलिस कर्मी वहीं मौजूद था।

महिला ने थाने में दी अभद्र व्यवहार की शिकायत : महिला ने सांपला थाना में टोल कर्मियों के खिलाफ शिकायत दी है। पुलिस ने शिकायत लेकर वेस्ट हरियाणा हाइवे प्रो.के सीआरओ से बात भी की है। फिलहाल पुलिस ने कोई मामला दर्ज नहीं किया है।

कई बार बदली अपनी पहचान : टोल मैनेजर नागेंद्र सक्सेना का कहा है कि महिला ने पहले स्वयं को सैन्य कर्मी बताया है। उसके बाद जज बताने लगी। एडवाइजर बताया। उसको एनएचएआई का नोटिफिकेशन दिखाया।

X
टोल बचाने को महिला ने जज, वकील तो कभी खुद को आर्मी अफसर बताया
Astrology

Recommended

Click to listen..