• Hindi News
  • Haryana
  • Sampla
  • बच्चे निजी में नहीं सरकारी स्कूल में पढ़ेंगे
--Advertisement--

बच्चे निजी में नहीं सरकारी स्कूल में पढ़ेंगे

Dainik Bhaskar

Apr 09, 2018, 03:35 AM IST

Sampla News - राजकीय स्कूलों में दाखिले को लेकर चली मुहिम जिले के अन्य गांवों में भी रंग लाने लगी है। खेड़ी साध के युवाओं की ओर से...

बच्चे निजी में नहीं सरकारी स्कूल में पढ़ेंगे
राजकीय स्कूलों में दाखिले को लेकर चली मुहिम जिले के अन्य गांवों में भी रंग लाने लगी है। खेड़ी साध के युवाओं की ओर से चलाई जा रही मुहिम से प्रेरित होकर डोभ गांव से एक दल खेड़ी साध में पहुंचा। उन्होंने खेड़ी साध पंचायत के फैसले को सरहाना करते हुए गांव के बच्चों को सरकारी स्कूल में पढ़ाने का फैसले लिया है। दल में पंच अनुप, पंच पंडित रामधन, पंच राजेंद्र,डाॅ. महाबीर, सूरजभान धनखड़, पवन, वीरेंद्र व रणधीर ने भाग लिया। पंचायत के सदस्यों की बैठक दोपहर एक बजे लोकल कमेटी के कार्यालय में हुई। डोभ निवासी महाबीर ने बताया कि वह भी अपने गांव में एक कमेटी का गठन करेंगे। कमेटी ग्रामीणों को सरकारी स्कूलों में बच्चों को पढ़ाने के लिए जागरूक करेंगी।

सांपला. गांव खेड़ी साध में बैठक करते हुए।

व्यापार कर रहे निजी स्कूल संचालक

पंच अनुप ने कहा कि निजी स्कूल शिक्षा के नाम पर व्यापार कर रहे है। जिसके चलते अभिभावकों की जेब पर अधिक भार पड़ रहा है। दोनों गांव के सदस्यों ने एक दूसरे के साथ राजकीय स्कूलों में बच्चे पढ़ाने को लेकर विचार सांझा किया।

X
बच्चे निजी में नहीं सरकारी स्कूल में पढ़ेंगे
Astrology

Recommended

Click to listen..