• Home
  • Haryana News
  • Sampla
  • दोनों ट्यूबवेल तोड़ने से गहराया जल संकट
--Advertisement--

दोनों ट्यूबवेल तोड़ने से गहराया जल संकट

दत्तौड़ के जलघर में 30 मई रात को शराब पीने के विवाद में कर्मचारी के साथ मारपीट करने वाले गांव गिझी के रोहित व सतबीर...

Danik Bhaskar | Jun 03, 2018, 03:40 AM IST
दत्तौड़ के जलघर में 30 मई रात को शराब पीने के विवाद में कर्मचारी के साथ मारपीट करने वाले गांव गिझी के रोहित व सतबीर सहित अन्य आरोपी जलघर का ट्यूबवेल भी तोड़ गए। ट्यूबवेल टूट जाने के कारण गांव में जल संकट उत्पन्न हो गया है। वहींं गांव में बने तीन वाटर टैंकों में भी पानी खत्म हो चुका है। ग्रामीण पानी खरीदकर पी रहे हैं या फिर दूर दराज से लाने पर मजबूर हैं। वहीं जन स्वास्थ्य विभाग भी कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं कर पाया है। जन स्वास्थ्य विभाग गांव में 2 ट्यूबवेल से पानी की सप्लाई कर रहा था, लेकिन आरोपियों की ओर से तोड़फोड़ के कारण दोनों ट्यूबवेल खराब पड़े है। तोड़फोड़ में हुई स्पार्किंग में जलघर की मोटर भी जल गई है। गांव में जल संकट गहराने के कारण ग्रामीणों को खासी परेशानी हो रही है।

दत्तौड़ जलघर में शराब पीने के विवाद में कर्मचारी से मारपीट मामले में आरोपी तोड़ गए थे ट्यूबवेल

सांपला. दत्तौड़ गांव में हैंड पंप से पानी लेकर आते ग्रामीण।

फायरिंग व तोड़फोड़ के आरोपी पुलिस पकड़ से बाहर

दत्तौड़ जलघर पर तैनात कर्मचारी तोशाम के गांव खरखड़ी सोहन पर 30 मई रात को हमला करने के आरोपी तीन दिन बाद भी पुलिस पकड़ से बाहर है। पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए लगातार दबिश दे रही है। जांच अधिकारी सहायक उप निरीक्षक सुभाष चन्द्र का कहना है कि जल्द ही आरोपियों को काबू कर लिया जाएगा। 30 मई रात को तोशाम का सोहन जलघर में ड्यूटी कर रहा था। इसी दौरान गांव गिझी के रोहित व सतबीर सहित अन्य कई लोग जलघर पर पहुंचे तथा शराब पीने लगे। कर्मचारी ने युवकों को जलघर परिसर में शराब पीने का विरोध किया तो वह कर्मचारी के साथ मारपीट की और जलघर में तोड़फोड़ कर फरार हो गए। आरोपियों ने कर्मचारी सोहन पर फायरिंग कर जान से मारने का भी प्रयास किया। कर्मचारी ने दरवाजे के पीछे छुपकर जान बचाई थी। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

2 दिन में मोटर ठीक हो जाएगी