• Hindi News
  • Haryana News
  • Sampla
  • खेलमंत्री के वादे पर भी चुलियाना स्टेडियम के नहीं सुधरे हालात, हॉल में टाइलें नहीं, चंदा कर मैदान करवाया साफ
--Advertisement--

खेलमंत्री के वादे पर भी चुलियाना स्टेडियम के नहीं सुधरे हालात, हॉल में टाइलें नहीं, चंदा कर मैदान करवाया साफ

गांव चुलियाना में बने खेल स्टेडियम में सुविधाएं नहीं होने की वजह से खिलाड़ियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा...

Dainik Bhaskar

Jun 03, 2018, 03:40 AM IST
खेलमंत्री के वादे पर भी चुलियाना स्टेडियम के नहीं सुधरे हालात, हॉल में टाइलें नहीं, चंदा कर मैदान करवाया साफ
गांव चुलियाना में बने खेल स्टेडियम में सुविधाएं नहीं होने की वजह से खिलाड़ियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। स्टेडियम में न पीने का पानी है और न ही शौचालय की सुविधा। वहीं, हॉल में अभी तक टाइलें भी नहीं बिछाई गई हैं। इस वजह से पहलवान चोटिल हो रहे हैं। पहलवानों ने 20 हजार रुपए चंदा कर खुद मैदान को साफ और समतल करवाया। पहलवानों ने रोष जताया कि 2015 में खेलमंत्री अनिल विज ने स्टेडियम को ठीक करवाने का वादा किया था, लेकिन वह अभी तक पूरा नहीं हो पाया है। इस वजह से 30 खिलाड़ियों ने शनिवार को सरकार के खिलाफ रोष प्रकट किया।

इन पहलवानों ने जताया रोष

इंटरनेशनल पहलवान मंजीत उर्फ खूनी, पहलवान प्रवीन, अजीत, संजय, देशी, अमित, हिंमाशु, सागर, रवि, पंकज, रितिक, सन्नी, विकास व सचिन सहित अन्य ने सरकार के प्रति रोष प्रकट किया।

सांपला. चुलियाना में बने खेल स्टेडियम के हाॅल में टाइलें तक नहीं लगी।

मंत्री से लेकर सांसद तक सभी जगह कर चुके शिकायत

पहलवान शनिवार को लोकराज संगठन के नेतृत्व में सुबह करीब 11 बजे दीमाना रोड पर बने खेल स्टेडियम पहुंचे। पहलवानों का नेतृत्व लोकराज संगठन के सदस्य जतिन दूहन ने किया। इंटरनेशनल पहलवान प्रवीन व मंजीत उर्फ खूनी का कहना है कि खेल स्टेडियम में वादा करने के बाद भी कोई भी सुविधा सरकार द्वारा नहीं दी गई। इंटरनेशनल पहलवान मंजीत का कहना है कि साल 2015 में जब उसने हरियाणा केसरी का खिताब जीता तो हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने बाबा धर्मानाथ से वादा किया था कि वह जल्दी ही खेल स्टेडियम की कायाकल्प कर देंगे। तीन वर्ष बीतने के बाद भी स्टेडियम में पीने का पानी, शौचालय, मेन गेट व चहारदीवारी तक की सुविधा नहीं हो सकी। खेल स्टेडियम के हाॅल में टाइल भी नहीं लगाई गई। कोच अजीत का कहना है कि स्टेडियम में झाड़ियां थीं। पहलवानों ने 20 हजार रुपये चंदा कर मैदान को साफ व समतल करवाया। पहलवानों ने स्टेडियम की मरम्मत करवाने को लेकर कैबिनेट मंत्री अनिल विज, रोहतक के सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा सहित विभाग के अधिकारियों तक गुहार लगा चुके हैं, लेकिन आश्वासनों के अलावा कुछ नहीं हुआ। पहलवान संते ने बताया कि गांव से 16 पहलवानों और एक कोच ने इंटरनेशनल स्टर पर पहचान दिलवाई है। 40 पहलवानों का राष्ट्रीय स्तर पर योगदान रहा है।

सीएम विंडो पर शिकायत से भी कोई फायदा नहीं मिला

लोकराज संगठन के सदस्य जतिन दूहन, विकास दूहन और सचिन ने बताया कि 22 मई को खेल स्टेडियम के बारे में सीएम विंडो पर भी एक शिकायत संगठन ने दी। इस शिकायत का भी कोई असर अभी तक देखने को नहीं मिला है। फरवरी माह में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से गांव का प्रतिनिधिमंडल मिला, लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है।

विज ने कोच व उपकरण देने का किया था वादा

अंबाला में आयोजित हरियाणा केसरी खिताब विजेता मंजीत उर्फ खूनी के सम्मान समारोह के दौरान कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने गांव के खेल स्टेडियम का मरमत कार्य, आधुनिक जिम बनवाने, मैस, सरकारी कोच की नियुक्ति, स्वच्छ पेयजल की सुविधा, आधुनिक शौचालय का निर्माण, स्टेडियम की चहारदीवारी सहित और उपकरण देने का वादा किया था।

X
खेलमंत्री के वादे पर भी चुलियाना स्टेडियम के नहीं सुधरे हालात, हॉल में टाइलें नहीं, चंदा कर मैदान करवाया साफ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..